एडवांस्ड सर्च

कश्मीर में हलचल जारी, क्रिकेटर इरफान पठान को भी घाटी छोड़ने का आदेश

जम्मू कश्मीर के गृह विभाग ने एडवाइजरी जारी की है. यात्रा को लेकर कहा गया है कि इस तरह के इनपुट हैं कि यात्रा को पाकिस्तान समर्थित आतंकवादियों की ओर से निशाना बनाया जा सकता है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in श्रीनगर, 04 August 2019
कश्मीर में हलचल जारी, क्रिकेटर इरफान पठान को भी घाटी छोड़ने का आदेश इरफान पठान की फाइल फोटो

कश्मीर घाटी में सुरक्षा को देखते हुए पर्यटकों के बाद अब क्रिकेटरों को भी कश्मीर घाटी छोड़ने का निर्देश दिया गया है. जम्मू कश्मीर क्रिकेट संघ (जेकेसीए) ने जम्मू कश्मीर क्रिकेट टीम के मेंटॉर और पूर्व हरफनमौला खिलाड़ी इरफान पठान सहित कई क्रिकेटरों को कश्मीर छोड़ने को कहा है.

जेकेसीए के एक सीनियर अधिकारी ने न्यूज एजेंसी आईएएनएस से बातचीत में इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि ऐसा सुरक्षा कारणों से किया गया है. अधिकारी ने कहा, "हम इरफान और अन्य सहयोगी स्टाफ की देखरेख में प्री-सीजन ट्रेनिंग कर रहे थे. ये मैच घरेलू सत्र के लिए टीम में खिलाड़ियों के चयन में मदद करेंगे लेकिन शनिवार को यह फैसला किया गया कि कश्मीर (यह जगह) छोड़ देनी चाहिए और सुरक्षा के हालात ठीक होने के बाद ही वापस लौटना चाहिए."

इससे पहले, सेना ने एक आदेश जारी करके पर्यटकों और अमरनाथ यात्रियों को घाटी छोड़ने को कहा था. अमरनाथ यात्रा को लेकर इंटेलिजेंस इनपुट के हवाले से आतंकवादी खतरे की बात कहते हुए जम्मू कश्मीर सरकार ने शुक्रवार को एक एडवाइजरी जारी की. इसमें तीर्थयात्रियों को घाटी से जल्द से जल्द लौटने की सलाह दी गई है. जम्मू कश्मीर के गृह विभाग ने यह एडवाइजरी जारी की है. यात्रा को लेकर कहा गया है कि इस तरह के इनपुट हैं कि यात्रा को पाकिस्तान समर्थित आतंकवादियों की ओर से निशाना बनाया जा सकता है.

एडवाइजरी में कहा गया, "आतंकवादी धमकी के ताजा इंटेलीजेंस इनपुट खास तौर से अमरनाथ यात्रा को निशाना बनाए जाने और कश्मीर घाटी के सुरक्षा हालात को ध्यान में रखते हुए अमरनाथ यात्रियों और पर्यटकों की सुरक्षा के हित में यह सुझाव दिया जाता है कि तीर्थयात्री घाटी से जल्द से जल्द लौटें." अमरनाथ यात्रा एक जुलाई से शुरू हुई और यह 15 अगस्त को समाप्त होनी है. इंटेलिजेंस इनपुट के मद्देनजर कश्मीर में पहले हजारों की संख्या में अर्धसैनिक बल पहुंच चुके हैं. इंटेलिजेंस इनपुट में यात्रा को आतंकवादियों की ओर से निशाना बनाने की बात कही गई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay