एडवांस्ड सर्च

नहीं सुधरेगा पाकिस्तान, 14 साल बाद कारिगल इलाके में तोड़ा सीजफायर

कश्मीर और जम्मू डिविजनों के बाद पाकिस्तान ने अब लद्दाख के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में संघषर्विराम का उल्लंघन करते हुए करगिल सेक्टर के द्रास और काकसर इलाकों में छोटे तथा स्वचालित हथियारों से भारतीय चौकियों पर गोलीबारी की.

Advertisement
aajtak.in
भाषा[Edited By: प्रवीण प्रसाद सिंह]नई दिल्ली, 17 August 2013
नहीं सुधरेगा पाकिस्तान, 14 साल बाद कारिगल इलाके में तोड़ा सीजफायर लेफ्टिनेंट जनरल गु‍रमित सिंह

कश्मीर और जम्मू डिविजनों के बाद पाकिस्तान ने अब लद्दाख के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में संघषर्विराम का उल्लंघन करते हुए करगिल सेक्टर के द्रास और काकसर इलाकों में छोटे तथा स्वचालित हथियारों से भारतीय चौकियों पर गोलीबारी की.

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार पाकिस्तानी सैनिकों ने गुरुवार रात द्रास क्षेत्र के सांदो चौकी पर स्वचालित हथियारों से गोलाबारी की. भारतीय जवानों ने जवाबी कार्रवाई की. भारत और पाकिस्तान के बीच 1999 में तनाव काफी बढ़ गया था और दोनों देश आमने-सामने आ गए थे जब पाकिस्तानी जवानों ने करगिल में घुसपैठ की थी.

सूत्रों के अनुसार द्रास और करगिल के बीच स्थित काकसर में संघषर्विराम का उल्लंघन हुआ और सोमवार की रात पाकिस्तानी सैनिकों ने शुरू में छोटे हथियारों से गोलीबारी की थी और बाद में उन्होंने चेनीगुंड चौकी पर स्वचालित हथियारों से गोलीबारी की.

इस क्षेत्र में पाकिस्तानी सैनिकों का प्रभुत्व है और वे ऊंचाई वाले क्षेत्रों में हैं तथा लद्दाख को कश्मीर से जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग को निशाना बना सकते हैं. यह वही चौकी है जहां अप्रैल 1999 में ले. सौरभ कालिया और उसके सहयोगी लापता हो गए थे. बाद में उनका क्षतविक्षत शव भारतीय सेना को सौंपा गया था. शव पर स्पष्ट चिह्न थे कि उन्हें प्रताड़ित किया गया था.

पाकिस्तानी जवानों ने हाल के दिनों में कश्मीर के उरी और केरन सेक्टरों और जम्मू के पुंछ तथा आरएस पुरा सेक्टरों में कई बार संघषर्विराम का उल्लंघन किया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay