एडवांस्ड सर्च

कश्मीर में आतंकियों ने एक PDP कार्यकर्ता को मौत के घाट उतारा, हिंसक झड़पों में 55 छात्र घायल

आतंकियों ने राजपोरा इलाके के कस्बायर इलाके में फायरिंग की. हमले में 45 साल के पीडीपी वर्कर बशीर अहमद डार और उनके चचेरे भाई अल्ताफ अहमद डार को गोलियां लगी. दोनों लोगों को गंभीर हालत में पुलवामा अस्पताल ले जाया गया. बशीर को डॉक्टरों ने फौरन मृत घोषित कर दिया.

Advertisement
अशरफ वानी [Edited By: दीपक शर्मा]श्रीनगर, 16 April 2017
कश्मीर में आतंकियों ने एक PDP कार्यकर्ता को मौत के घाट उतारा, हिंसक झड़पों में 55 छात्र घायल कश्मीर के पुलवामा में हिंसा

कश्मीर वादी में हालात सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैं. शनिवार देर शाम पुलवामा जिले में हुए आतंकी हमले में पीडीपी के एक कार्यकर्ता की मौत हो गई. हमले में एक अन्य घायल हुआ है.

ऐसे हुई वारदात
इंडिया टुडे को मिली जानकारी के मुताबिक आतंकियों ने राजपोरा इलाके के कस्बायर इलाके में फायरिंग की. हमले में 45 साल के पीडीपी वर्कर बशीर अहमद डार और उनके चचेरे भाई अल्ताफ अहमद डार को गोलियां लगी. दोनों लोगों को गंभीर हालत में पुलवामा अस्पताल ले जाया गया. बशीर को डॉक्टरों ने फौरन मृत घोषित कर दिया. जबकि अल्ताफ श्रीनगर के अस्पताल रेफर किया गया है.

मिल रही थी धमकियां
खबरों के मुताबिक बशीर राजपोरा में दवाइयों की दुकान चलाते थे. सूत्रों की मानें तो बशीर और अल्ताफ को पीडीपी से नाता तोड़ने की धमकियां मिल रही थीं.

सुरक्षा बलों से तीखी झड़पें
शनिवार को पुलवामा में ही सुरक्षाबलों और कॉलेज छात्रों के बीच हुई झड़पों में 55 युवा घायल हो गए हैं. स्थानीय मीडिया के मुताबिक हिंसा तब भड़की जब सुरक्षाबलों ने पुलवामा के सरकारी कॉलेज में घुसने की कोशिश की. हालांकि पुलिस का कहना है कि जवानों ने कॉलेज के बाहर नाका बनाया था. लेकिन छात्रों ने उनपर पथराव शुरू कर दिया. जवाबी कार्रवाई में कई नौजवानों को चोटें आईं. इनमें करीब 1 दर्जन लड़कियां भी शामिल हैं. हिंसा के दौरान छात्रों ने कॉलेज में भी जमकर तोड़फोड़ की. थोड़ी ही देर में हिंसा पुलवामा के बाकी हिस्सों में भी फैल गईं और मुरान चौक में भी दुकानों को खासा नुकसान पहुंचा है.

घाटी में तनाव
ये आतंकी हमला ऐसे वक्त हुआ है जब कश्मीर वादी में तनाव के हालात हैं. हाल ही में हुए श्रीनगर उप-चुनाव में वोटिंग के दौरान 8 लोग मारे गए थे. हिंसा के चलते सिर्फ 7.14 फीसदी लोग वोट डाल पाए थे. अनंतनाग लोकसभा सीट पर उप-चुनाव को टालना पड़ा था.

वायरल वीडियो से बिगड़ रहे हालात
इस बीच सोशल मीडिया पर एक के बाद एक वायरल हो रहे हिंसा के वीडियो आग में घी का काम कर रहे हैं. सुरक्षा बलों के काफिले में एक युवक को गाड़ी में बांधकर घुमाने के वीडियो से लोगों में गुस्सा है. इससे पहले एक सीआरपीएफ जवान की पिटाई के वीडियो से खासा बवाल हुआ था. एक और ताजा वीडियो में सैनिकों को एक नौजवान की पिटाई करते दिखाया गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay