एडवांस्ड सर्च

जम्मू-कश्मीर: सोपोर में लश्कर का मोस्ट वांटेड आतंकी आसिफ ढेर

सुरक्षाबलों को बुधवार सुबह आतंकी के छिपे होने की खबर मिली थी. हाल में आसिफ ने सोपोर में फायरिंग की थी, जिसमें एक फल विक्रेता के परिवार के तीन सदस्य घायल हो गए थे.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 11 September 2019
जम्मू-कश्मीर: सोपोर में लश्कर का मोस्ट वांटेड आतंकी आसिफ ढेर एनकाउंटर की फाइल फोटो

जम्मू-कश्मीर के सोपोर में सुरक्षाबलों ने बुधवार को एक आतंकी को मार गिराया. सुरक्षाबलों को बुधवार सुबह आतंकी के छिपे होने की खबर मिली थी. इसके बाद सुरक्षाबलों ने अभियान चलाया. इस दौरान लश्कर-ए-तैयबा के मोस्ट वांटेड आतंकी आसिफ को ढेर कर दिया गया. हाल में आसिफ ने सोपोर में फायरिंग की थी, जिसमें एक फल विक्रेता के परिवार के तीन सदस्य घायल हो गए थे.

पुलिस की ओर से जारी बयान में कहा गया कि "आतंकवाद की एक क्रूर घटना में, आतंकवादियों ने सोपोर के डंगरपोरा में एक बच्ची (उस्मा जान) सहित चार लोगों पर गोलियां बरसा दीं, जिससे वे सभी घायल हो गए. सभी घायलों को अस्पताल ले जाया गया. उनकी हालत स्थिर है."

न्यूज एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक, इस साल के पहले आठ महीनों में भारतीय सेना ने 139 आतंकवादी मारे हैं. इस संख्या में नियंत्रण रेखा के साथ-साथ राज्य के भीतरी इलाकों में सेना के साथ मुठभेड़ों में मारे गए आतंकवादियों की संख्या भी शामिल है.

ये आंकड़े एक जनवरी से 29 अगस्त तक सेना की ओर से मारे गए आतंकवादियों की संख्या के बारे में हैं. इसी अवधि के दौरान, घाटी में आतंकवाद संबंधी अभियानों में अलग अलग रैंकों से जुड़े 26 जवान शहीद हुए. साल के पहले आठ महीनों के दौरान सबसे अधिक आठ जवान फरवरी में शहीद हुए.

एक वरिष्ठ सैन्य अधिकारी ने कहा, "एक अभियान के दौरान अगस्त के महीने में सेना ने पांच आतंकवादियों को मार गिराया, जबकि एक को पकड़ लिया गया. जहां तक आतंकवादियों का सवाल है, मई महीने में सबसे ज्यादा आतंकी मारे गए." सिर्फ मई महीने में, सेना ने 27 आतंकवादियों को मार गिराया था, जो कि 2019 में किसी भी महीने के मुकाबले ज्यादा है. जम्मू एवं कश्मीर में इस महीने में सबसे अधिक आतंकवादी घटनाएं (22) दर्ज की गईं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay