एडवांस्ड सर्च

2016 में सबसे ज्यादा उग्रवादी बने कश्मीरी युवा: गृह मंत्रालय की रिपोर्ट

कश्मीर में आतंकी गतिविधियों को लेकर सरकार ने लोकसभा में जो जानकारी दी है. उससे साफ जाहिर होता है कि कश्मीर घाटी में आतंकी पिछले वर्षों की अपेक्षा 2016 में सबसे ज्यादा आतंकी गुटों में शामिल हुए.

Advertisement
aajtak.in
जितेंद्र बहादुर सिंह/ सुरभि गुप्ता नई दिल्ली, 21 March 2017
2016 में सबसे ज्यादा उग्रवादी बने कश्मीरी युवा: गृह मंत्रालय की रिपोर्ट कश्मीरी युवाओं पर रिपोर्ट

कश्मीर में आतंकी गतिविधियों को लेकर सरकार ने लोकसभा में जो जानकारी दी है. उससे साफ जाहिर होता है कि कश्मीर घाटी में आतंकी पिछले वर्षों की अपेक्षा 2016 में सबसे ज्यादा आतंकी गुटों में शामिल हुए. लोकसभा में अपने लिखित जवाब में गृह मंत्रालय ने जानकारी दी है कि 2016 में 88 कश्मीरी युवा आतंकी गतिबिधियों में शामिल हुए.

उग्रवादी बने 321 युवा
रिपोर्ट के मुताबिक जम्मू-कश्मीर के अंदरूनी क्षेत्रों में उग्रवादी संगठनों की गतिविधियां जम्मू-कश्मीर राज्य में चुनौती बन गई हैं. राज्य सरकार की सूचना के आधार पर 2010 से लेकर 2016 तक उग्रवाद में करीब 321 युवा शामिल हुए.

आतंकी गतिविधियों में शामिल होते युवा
लोकसभा में दी गई रिपोर्ट के मुताबिक 2010 में 54 युवक उग्रवाद में शामिल हुए, 2011 में 23 युवक, वहीं 2012 में 21 कश्मीरी युवा उग्रवाद में शामिल हुए. रिपोर्ट में ये भी बताया गया है कि 2013, 2014, 2015 और 2016 में क्रमशः 16, 53, 66 और 88 युवक आतंकी गतिविधियों में शामिल हुए.

सीमा पार से घुसपैठ की कोशिश
यही नहीं सीमा पार से आतंकी घुसपैठ की 2016 में 371 बार कोशिश कई गई, इनमें से 119 घुसपैठ को कामयाबी मिली. खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक बुरहान वानी के एनकाउंटर के बाद सीमा पार से घुसपैठ भी काफी संख्या में हुई, हालांकि जांच एजेंसियों और सुरक्षा एजेंसियों ने कश्मीर घाटी में इस घुसपैठ को कामयाब नहीं होने दिया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay