एडवांस्ड सर्च

आतंकी का साथ दे रहे पत्थरबाजों के हमले से 75 जवान घायल

कश्मीर में आतंकी ऑपरेशन के दौरान हुई पत्थरबाजी में सीआरपीएफ के अब तक 55 और जम्मू कश्मीर पुलिस के 20 जवान घायल हो गए. पत्थरबाजों ने 24 गाड़ियों को भी तोड़ दिया.

Advertisement
जितेंद्र बहादुर सिंह [Edited By: सुरभि गुप्ता]नई दिल्ली, 29 March 2017
आतंकी का साथ दे रहे पत्थरबाजों के हमले से 75 जवान घायल पत्थरबाजों के हमले से 75 जवान घायल

कश्मीर में आतंकी ऑपरेशन के दौरान हुई पत्थरबाजी में सीआरपीएफ के अब तक 55 और जम्मू कश्मीर पुलिस के 20 जवान घायल हो गए. पत्थरबाजों ने 24 गाड़ियों को भी तोड़ दिया.

पत्थरबाजी कर रहे तीन नागरिकों की मौत
गृह मंत्रालय को भेजी गई CRPF की रिपोर्ट के मुताबिक अब तक 24 से ज्यादा CRPF की गाड़ियां इस पत्थरबाजी में डैमेज हुई हैं. इस दौरान तीन नागरिकों की मौत हुई और हिजबुल का एक आतंकी मार गया.

आतंकी के खिलाफ ऑपरेशन के दौरान पत्थरबाजी
CRPF की रिपोर्ट के मुताबिक 28 मार्च को तड़के 3 बजे बडगाम के एसपी को जानकारी मिली कि एक घर में आतंकी छिपा है. सूचना मिलते ही 4.30 बजे पूरे इलाके को संयुक्त सुरक्षा बलों की टीम ने घेर लिया गया. 5.30 बजे आतंकी को मारने का ऑपरेशन शुरू हुआ, पर आम जनता 7 बजे तक आने लगी और 10 बजे तक पूरे इलाके में 8 से 10 किलोमीटर की दूरी के गांव के लोग आकर पत्थरबाजी करने लगे.

पत्थरबाजी रोकने के लिए तैनात करनी पड़ी टीम
इस पत्थर बाजी को रोकने के लिए CRPF को 7 कंपनी अलग से लगानी पड़ी. एनकाउंटर के दौरान और एनकाउंटर के बाद सुरक्षा बलों पर भयंकर पत्थर बाजी हुई जिससे अब तक 55 CRPF और 20 से ज्यादा लोकल पुलिस के जवान घायल हो गए.

बढ़ रही है पत्थरबाजों की संख्या
आलम ये था कि एनकाउंटर खत्म होने के बाद भी CRPF को अपने कैंप तक पहुंचने में 6 से 7 घंटे लगे. मसलन पूरे इलाके में पहली बार इतने बड़े स्तर पर स्थानीय लोगों ने पत्थरबाजी की. सुरक्षा एजेंसियां इस बात को लेकर चिंतित हैं कि पत्थरबाजी जो पहले शहरों तक थी बुरहान वानी के एनकाउंटर के बाद अब छोटे-छोटे गांव से लोग निकलकर पत्थरबाजी कर रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay