एडवांस्ड सर्च

वापस लौटना चाहते हैं बिहार SP विनय तिवारी, BMC ने कहा पहले कराएं कोरोना टेस्ट

बीएमसी के एडिशनल म्युनिसिपल कमिश्नर पी वेलरासु ने पटना आईजी संजय सिंह के एक पत्र का जवाब दिया है. सिंह ने कहा कि बिहार के आईपीएस अफसर को थोड़ी छूट दी जाए, जिसे खारिज करते हुए वेलरासु ने कहा कि बिहार में कोविड की स्थिति को देखते हुए अनुमति नहीं मिल सकती.

Advertisement
aajtak.in
मुस्तफा शेख मुंबई, 05 August 2020
वापस लौटना चाहते हैं बिहार SP  विनय तिवारी, BMC ने कहा पहले कराएं कोरोना टेस्ट विनय तिवारी

सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड मामले की जांच करने मुंबई पहुंचे बिहार के आईपीएस अधिकारी को क्वारंटीन स्किप करके वापस जाने के लिए अपना कोविड टेस्ट कराना होगा. यदि टेस्ट निगेटिव आता है तो उन्हें जाने की अनुमति होगी. ये जानकारी बीएमसी द्वारा दी गई है.

बता दें कि सुशांत मामले की जांच अब सीबीआई के हाथ में है और इसलिए अब बिहार पुलिस तस्वीर से बाहर हो चुकी है. बीएमसी का कहना है कि आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी को क्वारनटीन पूरा होने से पहले जाना है तो उन्हें कोविड टेस्ट कराना होगा और अगर ये टेस्ट निगेटिव आता है तो उन्हें जाने की इजाजत मिल जाएगी.

बीएमसी के एडिशनल म्युनिसिपल कमिश्नर पी वेलरासु ने पटना आईजी संजय सिंह के एक पत्र का जवाब दिया है. सिंह ने कहा कि बिहार के आईपीएस अफसर को थोड़ी छूट दी जाए, जिसे खारिज करते हुए वेलरासु ने कहा कि बिहार में कोविड की स्थिति को देखते हुए अनुमति नहीं मिल सकती. वेलरासु ने अपने जवाब में तिवारी को राय दी है कि वह ऑनलाइन प्लेटफॉर्म जूम के जरिए काम जारी रख सकते हैं.

लेटर में लिखा है कि इस तरीके से इस बात की तसल्ली की जा रही है कि एसिम्पटोमैटिक होने पर भी वह अफसर वायरस का संक्रमण नहीं फैलाएगा. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होने वाली मुलाकातों से इस बात की तसल्ली होगी कि वह फिजिकल विजिट में संक्रमित नहीं हुआ है. तिवारी पटना से मुंबई सोमवार को सुशांत सिंह राजपूत मामले में दायर की गई एफआईआर के सिलसिले में आए थे.

पटना पुलिस मुंबई में कैसे जांच करे, अधिकारी क्वरानटीन होने के डर से छुपे: DGP

अफसर को क्वारंटीन करने पर मुंबई पुलिस-महाराष्ट्र सरकार को SC की फटकार

सीबीआई कर रही मामले की जांच

उन्होंने बिहार पुलिस टीम द्वारा की जा रही जांच को मॉनीटर करना था, बिहार पुलिस सुशांत के पिता द्वारा आत्महत्या के लिए उकसाने के मामले की जांच कर रही थी. लेकिन बीएमसी द्वारा तिवारी को उसी शाम क्वारनटीन कर दिया गया और वह मुंबई के एक गेस्ट हाउस में रह रहे थे. मालूम हो कि केंद्र सरकार ने हाल ही में सुशांत मामले की जांच सीबीआई से कराने की अनुमति दे दी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay