एडवांस्ड सर्च

फ्लैट ना मिलने पर दी आत्महत्या की धमकी, पुलिस की भारी मशक्कत के बाद नीचे उतरा

हरियाणा के यमुनानगर में, बस फर्क इतना था कि पानी की टंकी एक बिल्डिंग के टॉप फ्लोर पर थी, और वीरू की जगह हाल ही में अमेरिका से अपने बेटे की शादी में शरीक होने यमुनानगर पहुंचे एनआरआई भूपिंदर सिंह कूद जाने और फांद जाने की धमकियां दे रहे थे.

Advertisement
aajtak.in
आशीष शर्मा[Edited by: नंदलाल शर्मा]नई दिल्‍ली, 06 August 2014
फ्लैट ना मिलने पर दी आत्महत्या की धमकी, पुलिस की भारी मशक्कत के बाद नीचे उतरा बिल्डिंग पर बैठा एनआरआई

शोले फिल्म में वीरू का रोल अदा करने वाले एक्टर धर्मेंद्र का वह सीन आज भी लोग नहीं भुला पाए हैं. जिसमें वह मौसी को मनाने के लिए पानी की टंकी पर चढ़ गए थे. यह तो रही रील लाइफ की बात, लेकिन रियल लाइफ में यह नजारा देखने को मिला हरियाणा के यमुनानगर में, बस फर्क इतना था कि पानी की टंकी एक बिल्डिंग के टॉप फ्लोर पर थी, और वीरू की जगह हाल ही में अमेरिका से अपने बेटे की शादी में शरीक होने यमुनानगर पहुंचे एनआरआई भूपिंदर सिंह कूद जाने, और फांद जाने की धमकियां दे रहे थे.

सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंची और काफी मान मनौव्वल के बाद एनआरआई को सकुशल नीचे उतार लिया. दरअसल एनआरआई ने अपने बेटे की शादी में गिफ्ट देने के लिए अंसल टाउन सिटी में एक फ्लैट बुक कराया था.

अंसल के अधिकारियों ने भी एनआरआई को शादी की तारीख पर फ्लैट की चाबी देने का करार किया था. शादी के बाद सामान फ्लैट के बाहर भी पहुंच गया, लेकिन अंसल ने अपना वायदा नहीं निभाया.

भूपिन्दर सिंह ने अपने बेटे को सरप्राइज देने के लिए उसका सामान अंसल सिटी में भेजा, तो देखा कि ना तो फ्लैट तैयार था और ना ही चाबी देने के लिए अंसल का कोई अधिकारी अपने कार्यालय में मौजूद था.

एनआरआई फोन मिलाता रहा, लेकिन किसी ने भी उसकी एक ना सुनी. इससे भूपिन्दर इस कदर हताश हो गए कि वह अपने फ्लैट के टॉप फलोर पर बने वाटर टैंक पर चढ़ गए और कार की चाबी और अपना मोबाइल फोन नीचे फेंककर आत्महत्या की धमकी देने लगे.

भूपिन्दर अकेले व्यक्ति नहीं है जो अपने फ्लैट को लेकर परेशान है. मौके पर कई ऐसे लोग पहुंच गए जो भूपिंदर की तरह पूरी रकम देने के बाद भी अपने फ्लैट के लिए अंसल अधिकारियों के चक्कर काट रहे है.

पुलिस अधिकारी एनआरआई को नीचे उतरने के लिए मनाते रहे. काफी देर प्रयास करने के बाद जब पुलिस ने अंसल के खिलाफ कार्यवाही करने की बात कही तब जाकर एनआरआई नीचे उतरा.

भूपिंदर ने कहा, 'एक साल में फ्लैट देने की बात कही थी, एक साल बाद कहा कि काम ही पूरा नहीं हुआ, फिर कहा रजिस्ट्री करवा लीजिये, आपको मौके पर ही फ्लैट दे दिया जायेगा. फिर कहा कि बेटे की शादी ही इस फ्लैट में कर लेना, लेकिन ना तो फ्लैट की चाबी मिली और ना ही कोई अधिकारी, बेटे का सामान बाहर पड़ा है.'

मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारी राजीव ने कहा, 'अंसल वालों के साथ फ्लैट का झगड़ा है. दोनों पार्टियों को पुलिस स्टेशन बुला लिया है. जो भी कार्रवाई बनेगी कर दी जायेगी.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay