एडवांस्ड सर्च

राजधानी ट्रेन से टकराकर इंजन में फंसा युवक, फिर भी दौड़ती रही रेल

ट्रेन से टकराने का बाद युवक का शव ट्रेन के इंजन में बुरी तरह फंस गया. लाश को लिए ट्रेन दौड़ती रही. फिर लोको पायलट ने ट्रेन को मेवला महराजपुर फाटक पर रोक दिया और जीआरपीकर्मियों की मदद से इंजन के हुक में बुरी तरह से फंसे शव को बाहर निकाला गया.

Advertisement
aajtak.in
आदित्य बिड़वई फरीदाबाद , 14 January 2019
राजधानी ट्रेन से टकराकर इंजन में फंसा युवक, फिर भी दौड़ती रही रेल प्रतीकात्मक फोटो.

हरियाणा के फरीदाबाद से एक दिलदहला देने वाली घटना सामने आई है. यहां हजरत निजामुद्दीन से चलकर मुंबई जा रही अगस्त क्रांति राजधानी एक्सप्रेस की चपेट में आने एक युवक की मौत हो गई. इस घटना के बाद लोगों के होश तब उड़ गए जब उन्होंने देखा कि ट्रेन के इंजन में युवक की लाश फंसी हुई है. लाश को लिए ट्रेन कई किलोमीटर तक दौड़ती रही फिर जब लोको पायलट की नजर इस पर पड़ी तो उन्होंने लाश को बाहर निकाला.

रेलवे अधिकारियों के अनुसार, अगस्त क्रांति राजधानी एक्सप्रेस हर बार की तरह रविवार को 4 बजकर 50 मिनट पर मथुरा की ओर रवाना हुई थी. फिर जब ट्रेन मेवला महराजपुर फाटक के पास पहुंची तो एक युवक अचानक ट्रेन के सामने आ गया. उस पर लोको पायलट की नजर नहीं गई.

ये भी पढ़ें: राजधानी एक्सप्रेस में खराब भोजन से यात्री भड़के

ट्रेन से टकराने का बाद युवक का शव ट्रेन के इंजन में बुरी तरह फंस गया. लाश को लिए ट्रेन दौड़ती रही. फिर लोको पायलट ने ट्रेन को मेवला महराजपुर फाटक पर रोक दिया और जीआरपीकर्मियों की मदद से इंजन के हुक में बुरी तरह से फंसे शव को बाहर निकाला गया.

ये भी पढ़ें: पटरी पर उतरने को तैयार देश की सबसे तेज ट्रेन

डिप्टी एसएस संजय राघव ने बताया कि शव निकाले जाने के बाद शाम 5.41 बजे ट्रेन को रवाना किया जा सका. शव निकाले जाने तक ट्रेन को करीब आधे घंटे ट्रैक पर खड़ा रखा गया.

ये भी देखें: देखिए, अमृतसर रेल हादसे का सबसे साफ VIDEO

वहीं, इस बारे में जांच अधिकारी राजपाल ने बताया कि मृतक की पहचान नहीं हो पाई है. उसने कोका कोला कलर की शर्ट पहन रखी थी. वह अचानक ट्रेन के सामने आ गया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay