एडवांस्ड सर्च

Advertisement

ब्राह्मणों को लुभाने के लिए कांग्रेस के 7-सूत्र, लगाई वादों की झड़ी

SC/ST एक्ट को लेकर बीजेपी से नाराज सवर्ण सड़क पर हैं. ऐसे में कांग्रेस ने ब्राह्मण समुदाय को अपने पाले में लाने का कार्ड चला है. रणदीप सुरजेवाला ने ब्राह्मणों के लिए 7 सूत्रीय कार्यक्रम की घोषणा की है.
ब्राह्मणों को लुभाने के लिए कांग्रेस के 7-सूत्र, लगाई वादों की झड़ी ब्राह्मण सम्मेलन में रणदीप सुरजेवाला
aajtak.in [Edited By: कुबूल अहमद]नई दिल्ली, 05 September 2018

मोदी सरकार द्वारा एससी/एससी एक्ट में संशोधन कर मूल स्वरूप में बहाल करने के कदम से सवर्ण समुदाय नाराज है और सड़क पर उतरकर बीजेपी के खिलाफ आंदोलन कर रहा है. कांग्रेस इस मौके को हाथ से जाने नहीं देना चाहती है. पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस के डीएनए में ब्राह्मण समाज का खून है. इससे पहले भी वो गुजरात चुनाव के दौरान राहुल गांधी को जनेऊधारी हिंदू बता चुके हैं.

हरियाणा के कुरुक्षेत्र में रणदीप सुरजेवाला ने 'ब्राह्णण सम्मलेन' में ब्राह्मण समाज के लोगों को लुभाने के लिए सात सूत्रीय घोषणाएं की. उन्होंने वादा करते  हुए कहा कि कांग्रेस सरकार में आती है तो ब्राह्मण कल्याण बोर्ड का गठन किया जाएगा.

कुरुक्षेत्र के ब्रह्मसरोवर के तट पर हुए ब्राह्मण सम्मेलन में सुरजेवाला ने ब्राह्मण समाज को अपने पाले में लाने का दांव चला. इस दौरान उन्होंने ब्राह्मण समुदाय के गरीबों के लिए 10 फीसदी आरक्षण का आश्वासन दिया.

सुरजेवाला ने वादा किया है कि सरकार आती है तो ब्राह्मण कल्याण बोर्ड का गठन कर प्रति वर्ष 100 करोड़ रुपये का सॉफ्ट लोन. इसके अलावा ब्राह्मण युवाओं को 4 फीसदी ब्याज पर छात्रवृति प्रदान की जाएगी.

उन्होंने भगवान परशुराम के नाम पर संस्कृत विश्वविद्यालय की स्थापना की भी घोषणा की. इसके अलावा हरियाणा के एमडी यूनिवर्सिटी कुरुक्षेत्र और सिरसा में पंडित परशुराम, पंडित लक्ष्मीचंद और पंडित भगवान दयाल शर्मा के नाम पर तीन चेयर की स्थापना कराए जाने का वादा किया.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के डीएनए में ब्राह्मण समाज का खून है. इतना ही नहीं उन्होंने एक बार फिर राहुल गांधी को शिवभक्त बताया.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी का अध्यक्ष आप लोगों (ब्राह्मणों) का बेटा है. राहुल गांधी भोले शंकर जी की यात्रा पर अकेले चले जा रहे हैं और चले जा रहे हैं. बता दें कि राहुल गांधी इन दिनों कैलाश मानसरोवर की यात्रा पर हैं.

गौरतलब है कि ब्राह्मण मतदाता एक दौर में कांग्रेस का सबसे मजबूत वोटबैंक माना जाता रहा है. लेकिन मौजूदा समय में बीजेपी के साथ खड़ा है. ऐसे में कांग्रेस उन्हें दोबारा से वापस लाने की कोशिश में जुटी है. यूपी में विधानसभा चुनाव में सपा के साथ गठबंधन से पहले शीला दीक्षित को सीएम के तौर पर पेश किया था.

गुजरात चुनाव के दौरान रणदीप सुरजेवाला ने राहुल गांधी को जनेऊधारी हिंदू बताया था और उनकी जनेऊधारी वाली तस्वीरें भी जारी की थी. यही नहीं खुद राहुल गांधी ने भी गुजरात चुनाव के दौरान अपने परिवार को शिवभक्त बताया था.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay