एडवांस्ड सर्च

शराबबंदी पर गहलोत-रूपाणी में दंगल जारी, चौंका देंगे शराब के आंकड़े

अशोक गहलोत ने कहा था कि गुजरात में घर-घर में शराब मिलती है. इसके बाद गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने गहलोत को चैलेंज किया कि हिम्मत हो तो राजस्थान में शराबबंदी लागू करके दिखाएं.

Advertisement
aajtak.in
गोपी घांघर अहमदाबाद, 10 October 2019
शराबबंदी पर गहलोत-रूपाणी में दंगल जारी, चौंका देंगे शराब के आंकड़े अशोक गहलोत (तस्वीर- अशोक गहलोत/फेसबुक पेज)

  • शराबबंदी पर रूपाणी और गहलोत में वार-पलटवार
  • रूपाणी बोले, हिम्मत है तो राजस्थान में लागू करें शराबबंदी

शराबबंदी को लेकर गुजरात और राजस्थान के मुख्यमंत्री आमने-सामने हो आ गए. दोनों ने एक दूसरे पर जमकर वार-पलटवार किए. दरअसल, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा था कि गुजरात में घर-घर में शराब मिलती है. इसके बाद गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने गहलोत को चैलेंज किया कि हिम्मत हो तो राजस्थान में शराबबंदी लागू करके दिखाएं.

रूपाणी के चैलेंज के बाद गहलोत ने एक बार फिर से हमला करते हुए कहा कि अगर गुजरात में शराब नहीं मिली तो वह सियासत छोड़ देंगे और अगर मिल गई तो रूपाणी को राजनीति छोड़ देना चाहिए. इसी पर गुजरात कांग्रेस के जरिए कुछ चौंकाने वाले आंकड़े भी मीडिया के सामने भी रखे गए.

चौंकाने वाले हैं गुजरात में शराब के मामले

गुजरात के मुख्यमंत्री रूपाणी के बयानों पर हमला करते हुए गुजरात कांग्रेस के अध्यक्ष अमित चावड़ा ने कहा कि गुजरात में शराबबंदी सिर्फ कागज पर है. राज्य में ऐसा कोई गांव नहीं है जहां देशी या विदेशी शराब ना मिलती हो. यही नहीं, अमित चावड़ा ने सरकार पर शराब के सामने हफ्ता वसूली का भी आरोप लगाया है.

गुजरात कांग्रेस ने पिछले 2 साल में पकड़ी गई शराब के आंकड़े पेश किए, जो खुद गुजरात सरकार ने विधानसभा में सवाल-जवाब के दौरान दिए थे. कांग्रेस ने कहा कि पिछले 2 साल में 15,40,454 लीटर देसी शराब, विदेशी शराब की 129,50,463 बोतलें जबकि बीयर की 17,34,792 बोतलें पकड़ी गई हैं. इनकी कीमत 25.4 करोड़ रुपये है. ये तो वो आंकड़े हैं जो खुद सरकार ने दिए हैं.

हर साल सैकड़ों लोगों पर केस

गुजरात में पिछले दो साल में यानी 2018-19 के दौरान देसी शराब के 1.3 लाख केस और विदेशी शराब के 29,989 केस दर्ज किए गए हैं. इन आंकड़ों के मुताबिक गुजरात में रोज 181 केस सिर्फ देसी शराब के दर्ज किए गए. जबकि विदेशी शराब के 41 केस रोज दर्ज किए गए. इन मामलों में 1,105 आरोपी 6 महीने से ज्यादा समय से और 762 आरोपी एक साल से ज्यादा समय से फरार हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay