एडवांस्ड सर्च

कैलाश विजयवर्गीय बोले- देश में 33 करोड़ देवी-देवता, नहीं होगा कोरोना का असर

विजयवर्गीय ने कहा कि हमारे देश में 33 करोड़ देवी-देवता निवास करते हैं, इसलिए यहां कोरोना वायरस का कोई असर नहीं होने वाला है. उन्होंने कहा, बजरबट्टू सम्मेलन में जिराती को कोरोना हनुमान नाम दिया गया है, जिनके आशीर्वाद से किसी को भी संक्रमण नहीं होगा.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in इंदौर, 14 March 2020
कैलाश विजयवर्गीय बोले- देश में 33 करोड़ देवी-देवता, नहीं होगा कोरोना का असर कैलाश विजयवर्गीय (फाइल फोटो-PTI)

  • हनुमान का नाम कोरोना पछाड़ हनुमान रखा
  • कोरोना के डर में बजरबट्टू सम्मेलन निरस्त

इंदौर में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि अपने देश में कोरोना का कोई असर नहीं होगा क्योंकि यहां 33 करोड़ देवी-देवता रहते हैं. उन्होंने कहा, कोरोना वायरस हमारा कुछ नहीं कर सकता है क्योंकि हमारे यहां जो हनुमान हैं उनका नाम मैंने कोरोना पछाड़ हनुमान रख दिया है, लेकिन सरकार के आदेश का पालन करना है इसलिए बजरबट्टू सम्मेलन निरस्त किया जा रहा है.

ये भी पढ़ें: अमेरिका में कोरोना वायरस से इमरजेंसी, डोनाल्ड ट्रंप भी कराएंगे अपना टेस्ट

कोरोना वायरस के मद्देनजर इंदौर शहर और जिले में रंगपंचमी के अवसर पर निकलने वाली झांकी इस साल आयोजित नहीं की जाएगी. यहां होने वाले बजरबट्टू सम्मेलन को भी निरस्त कर दिया गया है. इंदौर के एडीएम बीबीएस तोमर ने बताया कि सभी गैर-आयोजकों से चर्चा करने के बाद लोकहित और जन स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए यह निर्णय लिया गया है.

इस दौरान अपने बयान में विजयवर्गीय ने कहा कि हमारे देश में 33 करोड़ देवी-देवता निवास करते हैं, इसलिए यहां कोरोना वायरस का कोई असर नहीं होने वाला है. इस अवसर पर बजरबट्टू सम्मेलन के लिए हनुमान की वेशभूषा धारण करने वाले पूर्व विधायक जीतू जिराती से मुखातिब होते हुए उन्होंने कहा, बजरबट्टू सम्मेलन में जिराती को कोरोना हनुमान नाम दिया गया है, जिनके आशीर्वाद से किसी को भी संक्रमण नहीं होगा.

ये भी पढ़ें: कोरोना वायरस का असर, आरएसएस ने आखिरी वक्त में रद्द की वार्षिक सभा

गौरतलब है कि इंदौर में हर साल पारंपरिक रूप से बजरबट्टू सम्मेलन आयोजित किया जाता है. रविवार को इस आयोजन के दौरान जिला प्रशासन ने स्वास्थ्य एडवाइजरी की सूचना आयोजकों को दी. इसके चलते कार्यक्रम की औपचारिकता पूर्ण कर आयोजन समाप्त कर दिया गया. इस दौरान कैलाश विजयवर्गीय ने भी आयोजन के दौरान हास्य व्यंग्य के रूप में पहनी जाने वाली वेशभूषा धारण की और वे मौके से रवाना हो गए. इस बार बजरबट्टू में कैलाश विजयवर्गीय अपने असली रूप में ही नजर आएंगे. जीतू जिराती हनुमान की भूमिका में नजर आएंगे. हर वर्ष कैलाश विजयवर्गीय एक अलग रूप में नजर आते हैं. इससे पहले वे विष्णु, शंकर, नेताजी सुभाषचंद्र बोस सहित कई रूप में नजर आ चुके हैं.

(इंदौर से धर्मेंद्र शर्मा की रिपोर्ट)

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay