एडवांस्ड सर्च

सूरत: किशोरी ने दिया सगे भाई की बच्ची को जन्म, रेप का मुकदमा दर्ज

गुजरात के सूरत से एक शर्मनाक घटना सामने आई है. जहां एक किशोरी ने अपने ही भाई के बच्चे को जन्म देने के बाद उसे कूड़े में फेंक दिया. अब जांच के बाद मामले का खुलासा होने पर पुलिस ने नाबालिग भाई के खिलाफ रेप का मुकदमा दर्ज कर लिया है.

Advertisement
aajtak.in
गोपी घांघर सूरत, 20 January 2020
सूरत: किशोरी ने दिया सगे भाई की बच्ची को जन्म, रेप का मुकदमा दर्ज प्रतीकात्मक तस्वीर

  • सूरत में सामने आई रिश्तों को तार-तार कर देने वाली घटना
  • कूड़े में फेंक दिया था नवजात बच्ची को, चल रहा उपचार

आधुनिकता के आवरण में ढलते जा रहे समाज में रिश्ते तार-तार हो रहे हैं. रिश्तों को तार-तार करती ऐसी ही एक घटना गुजरात के सूरत में सामने आई है, जहां एक किशोरी ने अपने ही भाई के बच्चे को जन्म देने के बाद उसे कूड़े में फेंक दिया. अब जांच के बाद मामले का खुलासा होने पर पुलिस ने नाबालिग भाई के खिलाफ रेप का मुकदमा दर्ज कर लिया है.

यह घटना सूरत के उमरा थाना क्षेत्र के पनासगाम इलाके की है. बताया जाता है कि कुछ दिन पहले एक युवती को कूड़े के ढेर से किसी छोटे बच्चे के रोने की आवाज सुनाई दी. वह पहुंची तो उसमें कुछ ही समय पहले जन्मी नवजात बच्ची दिखाई दी. इस संबंध में स्थानीय निवासी प्रतिभा बोरसे ने बताया कि वह युवती नवजात बच्ची को कूड़े के ढेर से उठाकर अपने घर लाई और उसे साफ कर कपड़े पहना इसकी सूचना पुलिस को देने के साथ ही 108 नंबर पर फोन कर एंबुलेंस बुला उपचार के लिए सिविल अस्पताल में भर्ती कराया.

कचरे के ढेर से मिली इस नवजात बच्ची को अस्पताल में भर्ती तो करा दिया गया लेकिन इस बच्ची को जन्म देकर किसने मरने के लिए लावारिस फेंक दिया इसका पता लगाना पुलिस के लिए बड़ी चुनौती थी. पुलिस ने इस मामले की तहकीकात के लिए महिला अधिकारी डीसीपी विधि चौधरी की निगरानी में महिला सब इन्स्पेक्टर्स की अलग-अलग टीमें बनाईं. पनासगाम इलाके के स्वास्थ्य केंद्रों में आईं गर्भवती महिलाओं के डेटा खंगाले, लेकिन पुलिस टीम के हाथ खाली ही रहे.

ऐसे सुलझी गुत्थी

इसी बीच पुलिस को पता चला कि इलाके की एक किशोरी देखकर गर्भवती सी लगती थी, लेकिन अब वैसी नहीं दिखती. पुलिस शक के आधार पर किशोरी तक पहुंची और जब कड़ाई से पूछताछ की तो उसने सारे राज उगल दिए. किशोरी ने जो जानकारी दी, उससे पुलिस भी सन्न रह गई. किशोरी ने बताया कि उसके सगे भाई के साथ शारीरिक संबंध थे, जिससे वह गर्भवती हो गई थी. उसी ने बच्ची को जन्म देकर अपना पाप छिपाने के लिए कूड़े के ढेर में फेंक दिया.

किशोरी के इस खुलासे के बाद पुलिस ने उसके भाई के खिलाफ पॉक्सो एक्ट के साथ ही रेप की धारा में मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी है. बच्ची को जन्म देने वाली लड़की और उसका भाई, दोनों ही नाबालिग बताए जाते हैं. वहीं सिविल अस्पताल में भर्ती नवजात बच्ची जिंदगी की जंग लड़ रही है. चिकित्सकों के अनुसार उसकी हालत गंभीर बनी हुई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay