एडवांस्ड सर्च

दलित युवक ने रामदास अठावले पर फेंका काला कपड़ा

दरअसल, रामदास अठावले एक कार्यक्रम के दौरान केंद्र सरकार की उपलब्धियां गिना रहे थे तभी एक दलित युवक उनकी कुर्सी के पीछे आकर खड़ा हो गया.  केंद्रीय राज्यमंत्री मीडिया के सामने बोल रहे थे, तभी इस युवक ने अपनी जेब से काला कपड़ा निकाला और उनकी तरफ फेंकते हुए नारेबाजी शुरू कर दी.

Advertisement
aajtak.in
गोपी घांघर / वरुण शैलेश सूरत, 09 April 2018
दलित युवक ने रामदास अठावले पर फेंका काला कपड़ा रामदास अठावले

गुजरात के सूरत पहुंचे केंद्रीय सामाजिक न्याय अधिकारिता राज्य मंत्री रामदास अठावले को रविवार को दलितों के विरोध का सामना करना पड़ा. एक कार्यक्रम के दौरान एक दलित युवक ने मंत्री को काले कपड़े दिखा कर विरोध दर्ज कराया. विरोध करने वाले युवक का कहना था कि एनडीए सरकार दलित नेता अपने समाज पर हो अत्याचार के खिलाफ चुप्पी साधे हुए हैं. बता दें कि अठावले भी दलित समुदाय से आते हैं.

दरअसल, रामदास अठावले  एक कार्यक्रम के दौरान केंद्र सरकार की उपलब्धियां गिना रहे थे तभी एक दलित युवक उनकी कुर्सी के पीछे आकर खड़ा हो गया.  केंद्रीय राज्यमंत्री मीडिया के सामने बोल रहे थे, तभी इस युवक ने अपनी जेब से काला कपड़ा निकाला और उनकी तरफ फेंकते हुए नारेबाजी शुरू कर दी. यह सब मीडिया के सामने हुआ. मंत्री का विरोध करने वाले युवक का नाम कुणाल सोनवणे है. बहरहाल, बताया जा रहा है कि विरोध करने वाले युवक कुणाल की मां सूरत महानगर पालिका के वार्ड नंबर 18 से कांग्रेस की पार्षद हैं.

इसलिए नाराज था दलित युवक

प्रेस कांफ्रेंस में मौजूद लोगों ने विरोध करने वाले युवक को पकड़ कर बाहर ले गए. कृणाल का कहना है कि बीजेपी का साथ देने वाले दलित नेताओं को अपने समाज का विकास करना चाहिए था, लेकिन एनडीए सरकार में शामिल दलित नेता अपने समाज पर हो अत्याचार पर चुप्पी साधे हुए हैं. वहीं अठावले इस विरोध को साजिश करार दिया.  यह पूरा वाकया मीडिया के कैमरों के सामने ही हुआ।

रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के नेता रामदास अठावले ने कहा कि गुजरात चुनाव में समीकरण इसलिए गड़बड़ हो गया क्योंकि हार्दिक पटेल ने अपने समाज को गुमराह किया और कांग्रेस की तरफ जाने को प्रेरित किया और इसी वजह से बीजेपी को नुकसान उठाना पड़ा. बता दें कि बीजेपी को पिछले विधान सभा चुनावों की तुलना में 2017 के चुनाव में नुकसान उठाना पड़ा था.

रामदास आठवले ने कहा कि राहुल गांधी पीएम बनने के सपने देख रहे हैं, मगर कांग्रेस सत्ता में नहीं आएगी. गुजरात में राहुल गांधी ने अच्छा प्रर्दशन किया है, उसकी वजह हार्दिक पटेल हैं. मंत्री ने यह भी कहा कि अगर हार्दिक पटेल को अपने समाज के लिए आरक्षण चाहिए तो उन्हें नरेंद्र मोदी की एनडीए सरकार का साथ देना चाहिए.

जिग्नेश मेवानी को सलाह

दलित नेता जिग्नेश मेवानी को लेकर रामदास अठावले ने कहा कि उन्हें अच्छी राजनीति करनी चाहिए. ऊना आंदोलन के बाद उन्हें विधायक बनने का मौका मिला है और उन्हें कोशिश करें कि वह नक्सलवादियों का साथ देते हुए नजर न आएं क्योंकि बाबा साहब की विचारधारा में ये नहीं आता है.

अनशन से क्या होगा

दलितों को लेकर उपवास करने की तैयारी करने वाले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर केंद्रीय राज्य मंत्री रामदास अठावले ने कहा कि उन्हें लोकतांत्रिक अधिकार है. मगर पिछले 60 सालों में दलित समाज कितना सलामत रहा है? दलित समाज पर राजनीति करना अच्छा नहीं है. कांग्रेस ने अपने शासन में दलितों के लिए क्या किया, सरकार को सलाह देने का अधिकार राहुल गांधी को है, लेकिन अनशन से क्या होगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay