एडवांस्ड सर्च

'मोदी साड़ी' का जवाब देने के लिए सूरत के बाजार में आई 'राहुल-प्रियंका साड़ी'

कपड़ा कारोबारी गौरव श्रीमाली ने बताया कि उन्होंने फिलहाल 120 साड़ी ही प्रिंट करवाई हैं जिन्हें वो मुंबई की कांग्रेस विधायकों को भेजेंगे. इसके बाद इन साड़ियों की जैसी मांग आएगी उसी के मुताबिक ऑर्डर पर साड़ियां तैयार की जाएंगी.

Advertisement
गोपी घांघर [Edited by: अनुग्रह मिश्र]नई दिल्ली, 20 February 2019
'मोदी साड़ी' का जवाब देने के लिए सूरत के बाजार में आई 'राहुल-प्रियंका साड़ी' राहुल गांधी की फोटो प्रिंट साड़ी (फोटो- गोपी घांघर)

एशिया के सबसे बड़े कपड़ा बाजार सूरत में पहले सिर्फ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीरें साड़ियों पर छपती थीं लेकिन अब इन साड़ियों पर दो नए नेताओं के चेहरे ने दस्तक दे दी है. लोकसभा चुनाव की तारीख़ें जैसे-जैसे नज़दीक आ रही है वैसे-वैसे कांग्रेस समर्थक कपड़ा कारोबारियों ने पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी की तस्वीर वाली साड़ियां बनानी भी शुरू कर दी हैं.

सूरत में बनने वाली साड़ियां देश भर के तमाम राज्यों में भेजी जाती हैं. यही वजह है कि राजनीतिक दल साड़ियों के ज़रिए अपना-अपना चुनाव प्रचार करने में जुट गए हैं. सूरत में कपड़ा का कारोबार करने वाले गौरव श्रीमाली ख़ुद को कांग्रेस पार्टी का समर्थक बताते हैं. गौरव ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका गांधी की तस्वीर वाली डिजिटल प्रिंट साड़ियां कपड़ा बाजार से छपवाई हैं.

साल 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले सूरत के इस कपड़ा बाजार में आम तौर पर बीजेपी के समर्थन नरेंद्र मोदी के फोटो प्रिंट वाली साड़ियां छपवाते थे, जिन्हें मांग के मुताबिक देश के विभिन्न राज्यों में सप्लाई किया जाता था. लेकिन जब से नरेंद्र मोदी की तस्वीर वाली साड़ियां चर्चा में आई हैं कांग्रेस भी इस रेस में पीछे नहीं रहना चाहती. यही वजह है कि कांग्रेस समर्थक गौरव जैसे कारोबारी राहुल गांधी के फोटो प्रिंट वाली साड़ियां यहां बनवा रहे हैं.

कपड़ा कारोबारी गौरव श्रीमाली ने बताया कि उन्होंने फिलहाल 120 साड़ी ही प्रिंट करवाई हैं जिन्हें वो मुंबई की कांग्रेस विधायकों को भेजेंगे. इसके बाद इन साड़ियों की जैसी मांग आएगी उसी के मुताबिक ऑर्डर पर साड़ियां तैयार की जाएंगी. लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस भी अब इन साड़ियों के जरिए पार्टी का प्रचार करना चाहती है.

गौरव श्रीमाली ने बताया कि उन्होंने नरेंद्र मोदी के फोटो प्रिंट वाली साड़ियों के जवाब में राहुल गांधी के प्रिंट वाली साड़ियों को तैयार किया है. सूरत के कपड़ा कारोबारियों ने जीएसटी का बड़े पैमाने पर विरोध किया था लेकिन अब धीरे-धीरे यहां के कपड़ा कारोबारी जीएसटी सिस्टम में शामिल हो चुके हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay