एडवांस्ड सर्च

पाकिस्तान ने फिर की हिमाकत, गुजरात की समुद्री सीमा से 15 भारतीय मछुआरों का किया अपहरण

गुजरात के पोरबंदर में पाकिस्तानी मरीन्स ने 15 भारतीय मछुआरों को पकड़ लिया और उनके 3 नावों को भी अपने कब्जे में ले लिया.

Advertisement
गोपी घांघर [Edited by: अजीत तिवारी]पोरबंदर, 09 January 2019
पाकिस्तान ने फिर की हिमाकत, गुजरात की समुद्री सीमा से 15 भारतीय मछुआरों का किया अपहरण प्रतीकात्मक तस्वीर

पाकिस्तानी मरीन्स ने एक हफ्ते में दूसरी बार भारतीय मछुआरों को पकड़ लिया है. गुजरात के पोरबंदर के समुद्री इलाके में पाक सैनिकों ने बुधवार को 3 नावों को अपने कब्जे में लेकर 15 भारतीय मछुआरों का अपहरण कर लिया.

दरअसल, बुधवार सुबह भारतीय मछुआरे गुजरात के पोरबंदर में अपनी-अपनी नावों पर सवार थे. तभी पाकिस्तानी मरीन्स ने धावा बोला और तीनों नावों की घेराबंदी कर उन्हें अपने कब्जे में ले लिया. इन 3 नावों पर 15 मछुआरे सवार थे, जिन्हें पाकिस्तान ने किडनैप कर लिया.

बता दें कि एक हफ्ते में पाकिस्तान द्वारा भारतीय मछुआरों को किडनैप करने का यह दूसरा मामला है. इससे पहले पाकिस्तानी सेना के जवानों ने बीते 3 जनवरी को गुजरात के तट से ही 5 भारतीय मछुआरों को पकड़ लिया था.

पाक नौसेना ने 5 मछुआरों को पकड़ा

पाकिस्तान समुद्री सुरक्षा एजेंसी (पीएमएसए) ने तीन जनवरी की देर रात गुजरात तट से 5 भारतीय मछुआरों को पकड़ लिया और उनकी एक नौका भी जब्त कर ली. नेशनल फिशवर्कर्स फोरम (एनएफएफ) के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी.

पीएमएसए पाकिस्तानी नौसेना की एक शाखा है. यह एजेंसी भारतीय मछुआरों को उनके देश की समुद्री सीमा को पार करने के आरोप में पकड़ लेती है. एनएफएफ के सचिव मनीष लोधारी ने बताया था कि कुछ दिन पहले पांच मछुआरे अपनी नौका लेकर गुजरात के पोरबंदर से समुद्र में गए थे.

उन्होंने बताया कि अरब सागर में अंतरराष्ट्रीय समुद्री सीमा के नजदीक पीएमएसए ने मछुआरों को पकड़ लिया. बता दें कि दिसंबर 2018 में केंद्र सरकार ने कहा कि पाकिस्तान व श्रीलंका की विभिन्न जेलों में कुल 500 भारतीय मछुआरे बंद हैं. लोकसभा में एक सवाल के लिखित उत्तर में विदेश राज्य मंत्री वी.के. सिंह ने कहा कि पाकिस्तान की जेलों में 482 मछुआरे जबकि श्रीलंका की जेलों में 18 मछुआरे बंद हैं. वी.के.सिंह के अनुसार, पाकिस्तान के कब्जे में 1,050 भारतीय मछली पकड़ने वाली नौकाएं हैं, जबकि श्रीलंका के पास 10 नौकाएं हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay