एडवांस्ड सर्च

खुले पैसे से निपटने के लिए एमसीडी ने निकाला नायाब तरीका

पांच सौ के नोट और हजार के नोटो के लिए जहां बैंको और एटीएम में मारामारी है तो वही सरकार ने जहां हजार और पांच सौ के नोटो को चलाने के आदेश दिए है.

Advertisement
aajtak.in
रोहित मिश्रा/ अमित रायकवार नई दिल्ली, 13 November 2016
खुले पैसे से निपटने के लिए एमसीडी ने निकाला नायाब तरीका खुल्ले पैसों के लिए MCD का नायाब तरीका

पांच सौ के नोट और हजार के नोटो के लिए जहां बैंको और एटीएम में मारामारी है तो वही सरकार ने जहां हजार और पांच सौ के नोटो को चलाने के आदेश दिए है वहां भी मुसिबत कम नही है क्योकि ज्यादातर लोग 500 और हजार के ही नोट दे रहे है जिसकी वजह से खुल्ले की समस्या से जुझना पड़ रहा है इसे निजात के लिए एमसीडी ने भी नायाब तरीका अपनाया है इसके लिए टोल कलेक्शन सेंटरो पर 100-100 रूपए के टोकन बनाए गए है.

खुल्ले पैसों के लिए MCD का नायाब तरीका
आप टोल पर देंगे 500 या फिर 1000 के नोट तो खुल्ले में मिलेगा 100 रूपए को टोकन. जिससे बाद में इसी टोकन को वापस कर पैसे वापस ले सकते है. दरअसल एमसीडी ने दिल्ली के टोल कलेक्शन सेंटर से भले ही छोटी गाड़ियों को छुट दे दी गई हो लेकिन एनजीटी से मिले आदेश पर लिए जा रहे ग्रीन टैक्स की वसूली जारी है. जिसमें दिल्ली आने वाले 407 छोटे ट्रक और बड़े और भारी ट्रको से ग्रीन टैक्स की वसूले हैं.

खुल्ले के लिए 100 रूपए की पर्ची दी जा रही है
जहां छोटे और बड़े ट्रक वाले 500 या फिर 1000 के ही नोट टोल कलेक्शन सेंटरो पर दे रहे है. जिसके बाद टोल क्लेक्शन सेंटर पर खुल्ले के लिए 100 रूपए की पर्ची दी जा रही है. ताकि ट्रक वाल बाद में इसे कैश करा सकते है. एनजीटी के आदेश के बाद लागू ग्रीन टैक्स की वसूली अभी जारी है जिससे खुल्ले से निजात पाने के लिए एमसीडी टोल कलेक्शन सेंटरो पर ये नयाब तरीका अपनाया गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay