एडवांस्ड सर्च

24 हजार फीट की ऊंचाई पर देश का तिरंगा फहरा लौटे ITBP जवान

माउंट धौलागिरी की चोटी फतह करना सबसे मुश्किल था. क्योंकि खराब मौसम के चलते आईटीबीपी के कुछ जवान रास्ते में फंस गये और बेहद मुश्किल हालात में इन जवानों को रेसक्यू किया गया.

Advertisement
aajtak.in
जितेंद्र बहादुर सिंह नई दिल्ली, 27 June 2017
24 हजार फीट की ऊंचाई पर देश का तिरंगा फहरा लौटे ITBP जवान मांउट धौलागिरी को फतह करने वाले आईटीबीपी के जवान

दुनिया की सांतवी सबसे ऊंची चोटी और करीब 24 हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित मांउट धौलागिरी को फतह करने वाले आईटीबीपी के जवान सकुशल दिल्ली वापस लौट चुके हैं. आपको बता दें कि इस साल 10 मार्च को दिल्ली से शुरू हुई धौलागिरी पर्वतारोहण की टीम ने करीब डेढ़ महीने में धौलागिरी पर्वत को फतह किया. लेकिन ये काम इतना आसान भी नहीं था. इस टीम को पूरे रास्ते में कई चुनौतियों का सामना करना पड़ा. बेहद खराब मौसम और तूफान के चलते आईटीबीपी के कुछ सदस्य रास्ते में फंस गये और इन्हें रेसक्यू करना पड़ा.

गौरतलब है कि आईटीबीपी देश के भारत चीन सीमा पर स्थित हिमालय की चौकियों पर तैनात है. आईटीबीपी की कुछ चौकियां 9 हजार फीट से लेकर 18 हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित है. ऐसे में आईटीबीपी आए दिन बड़े पर्वतारोहण जैसे टास्क को अंजाम देती रहती है.

माउंट धौलागिरी की चोटी फतह करना सबसे मुश्किल था. क्योंकि खराब मौसम के चलते आईटीबीपी के कुछ जवान रास्ते में फंस गये और बेहद मुश्किल हालात में इन जवानों को रेसक्यू किया गया.

ITBP पर्वतारोहण अभियान माउंट धौलागिरी के लॉगिन कार्यक्रम में केंद्रीय गृह सचिव राजीव महर्षि और ITBP के पीजी कृष्णा चौधरी ने भाग लिया. इस अवसर पर राजीव महर्षि ने पर्वतारोहण के क्षेत्र में ITBP के योगदान की सराहना करते हुए कहा कि धौलागिरि पर्वत पर सफल आरोहण के लिए अभियान के लीडर एवं सदस्यों को बधाई देता हूं.

राजीव महर्षि ने कहा कि ITBP पर्वतारोहण के क्षेत्र में एक अग्रणी बल है और इसकी कार्य परिस्थितियां बल के सदस्यों को पर्वतारोहण में निपुण बनाती हैं. उन्होंने यह भी आशा व्यक्त की कि भविष्य में आईटीबीपी बल पर्वतारोहण में अपने योगदान को और समृद्धि बनाएगा.

केंद्रीय गृह सचिव राजीव महर्षि ने इस मौके पर आईटीबीपी के बल गीत को भी रिलीज किया. इस गीत को सुप्रसिद्ध गायक सोनू निगम ने अपनी आवाज से नवाजा है. सोनू निगम ने इस गाने के लिए आईटीबीपी के अतुलनीय योगदान के चलते कोई शुल्क नहीं लिया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay