एडवांस्ड सर्च

दिल्ली: सुल्तानपुरी जूता फैक्ट्री में लगी आग पर HC ने मांगी रिपोर्ट

सुल्तानपुरी की एक जूता फैक्ट्री में 9 अप्रैल को आग लग गई थी. आग पर काबू पाने के लिए 10 फायर टेंडर पहुंचे थे. इलाके की संकरी गलियां होने के चलते फायर टेंडर को अंदर तक आने में काफी मशक्कत करनी पड़ी थी.

Advertisement
aajtak.in
केशवानंद धर दुबे/ पूनम शर्मा / मोनिका गुप्ता नई दिल्ली, 12 April 2018
दिल्ली: सुल्तानपुरी जूता फैक्ट्री में लगी आग पर HC ने मांगी रिपोर्ट प्रतीकात्मक फोटो

दिल्ली के सुल्तानपुरी में जूता फैक्ट्री में आग लगने के मामले में हाईकोर्ट ने दिल्ली सरकार, दिल्ली पुलिस और नॉर्थ एमसीडी को इंस्पेक्शन कर रिपोर्ट देने को कहा है. बता दें कि इस हादसे में 4 लोगों की मौत हुई थी.

एक्टिंग चीफ जस्टिस गीता मित्तल और जस्टिस सी. हरिशंकर की बेंच ने इस मामले में संज्ञान लेते हुए कहा है कि ये मजदूरों के अधिकारों से जुड़ा मामला है.

गौरतलब है कि सुल्तानपुरी की एक जूता फैक्ट्री में 9 अप्रैल को आग लग गई थी. आग पर काबू पाने के लिए 10 फायर टेंडर पहुंचे थे. इलाके की संकरी गलियां होने के चलते फायर टेंडर को अंदर तक आने में काफी मशक्कत करनी पड़ी थी. इस हादसे में दो नाबालिग समेत चार लोगों की मौत हुई थी.

24 अप्रैल को होगी अगली सुनवाई

इस मामले मे कोर्ट ने नॉर्थ एमसीडी को घायलों का ठीक से उपचार कराने का भी निर्देश दिया है. दिल्ली हाईकोर्ट इस मामले में अगली सुनवाई इसी महीने की 24 तारीख को करेगा. सुल्तानपुरी की ये जूता फैक्ट्री इरेसिडेंशल एरिया में काफी वक्त से चल रही है.

कोर्ट ने दिल्ली सरकार, नॉर्थ एमसीडी और दिल्ली पुलिस से इंस्पेक्शन करके स्टेटस रिपोर्ट मांगी है. ताकि ये साफ हो सके कि इस मामले मे नियमों की अनदेखी किन- किन विभागों की तरह से की गई. किस- किस अधिकारियों की मिली भगत से ऐसा हुआ.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay