एडवांस्ड सर्च

दिल्ली अग्निकांड पर सियासत जारी, अनाज मंडी इलाके में नेताओं का तांता

दिल्ली के फिल्मिस्तान इलाके में भीषण आग से हाहाकार मचा हुआ है. अब तक 43 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है. वहीं आग की इस भीषण घटना पर राजनीति भी शुरू हो गई है. घटनास्थल पर नेताओं का तांता लगा हुआ है. भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) का आरोप है कि दिल्ली सरकार की लापरवाही की वजह से ये हादसा हुआ है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 08 December 2019
दिल्ली अग्निकांड पर सियासत जारी, अनाज मंडी इलाके में नेताओं का तांता विजय गोयल (फाइल फोटो)

  • दिल्ली के अनाज मंडी इलाके की आग पर सियासत
  • बीजेपी नेताओं ने लगाए दिल्ली सरकार पर आरोप

दिल्ली के फिल्मिस्तान इलाके में भीषण आग से हाहाकार मचा हुआ है. अब तक 43 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है. वहीं आग की इस भीषण घटना पर राजनीति भी शुरू हो गई है. घटनास्थल पर नेताओं का तांता लगा हुआ है. भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) का आरोप है कि दिल्ली सरकार की लापरवाही की वजह से ये हादसा हुआ है.

बीजेपी नेता विजय गोयल ने कहा, 'आजकल हादसे आम बात हो गए हैं क्योंकि हादसों की जांच के आदेश तो दिए जाते हैं लेकिन फिर उन पर सरकार कोई कार्रवाई नहीं करती है. ऐसे हादसे दोबारा ना हों इसके लिए दिल्ली सरकार को कदम उठाने होंगे.' वहीं बीजेपी नेता विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि हमने सदन में कई बार मुख्यमंत्री से दिल्ली की फायर सर्विस पर चर्चा करने की बात कही है. उन्होंने कहा कि आग की इस घटना पर चर्चा के लिए मुख्यमंत्री को विधानसभा का विशेष सत्र बुलाना चाहिए.

दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी, केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी और अनुराग ठाकुर ने मौके पर जाकर घटना के संबंध में जानकारी ली. वहीं इस मामले में मनोज तिवारी ने कहा है कि मामले की उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिए. साथ ही मनोज तिवारी ने मृतकों के परिजनों को मुआवजे के तौर पर 5-5 लाख रुपये मदद का ऐलान भी किया. साथ ही घायलों को 25 रुपये की सहायता देने की घोषणा की.

वहीं आग पर जारी राजनीति के बीच आम आदमी पार्टी (AAP) नेता इमरान हुसैन ने कहा कि यह पुरानी दिल्ली का इलाका है, इस बात की जानकारी एमसीडी को होगी कि लोगों ने लाइसेंस ले रखे हैं या नहीं. उन्होंने कहा कि इस मामले की जांच होगी जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी. उधर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अग्निकांड की मजिस्ट्रेट जांच की बात कही है.

10-10 लाख रुपये मुआवजा

वहीं मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल घटनास्थल पर पहुंचे और इसके बाद घायलों को देखने अस्पताल भी गए. घटना के बाद मुख्यमंत्री केजरीवाल ने मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये मुआवजा देने का ऐलान किया. इसके अलावा घायलों को एक-एक लाख रुपये मुआवजा देने का ऐलान किया है. वहीं अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि घायलों का मुफ्त इलाज होगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay