एडवांस्ड सर्च

दिल्ली सचिवालय में भिड़े मंत्री और सफाई कर्मचारी आयोग के सदस्य

सफाई कर्मचारी आयोग के सदस्य गंगाराम ने सफाईकर्मियों को हेल्थ कार्ड न देने का आरोप लगाया. इसके बाद मंत्री राजेंद्र पाल गौतम अचानक प्रेस कॉन्फ्रेंस छोड़कर चले गए.

Advertisement
aajtak.in
पंकज जैन नई दिल्ली, 24 September 2019
दिल्ली सचिवालय में भिड़े मंत्री और सफाई कर्मचारी आयोग के सदस्य आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं की फाइल फोटो (IANS)

  • सफाई कर्मचारी आयोग ने हेल्थ कार्ड न देने का आरोप लगाया
  • मंत्री राजेंद्र पाल गौतम अचानक प्रेस कॉन्फ्रेंस छोड़कर चले गए

दिल्ली सचिवालय में मंगलवार को आम आदमी पार्टी के मंत्री राजेंद्र पाल गौतम और सफाई कर्मचारी आयोग के सदस्य की भिड़ंत हो गई. यह भिड़ंत मीडिया सेंटर में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान हुई. आयोग के सदस्य गंगाराम ने सफाईकर्मियों को हेल्थ कार्ड न देने का आरोप लगाया. इसके बाद मंत्री राजेंद्र पाल गौतम अचानक प्रेस कॉन्फ्रेंस छोड़कर चले गए.

इससे पहले सोमवार को उत्तरी एमसीडी की बैठक में जमकर हंगामा हुआ. हंगामे के बाद आम आदमी पार्टी के 25 पार्षद 15 दिन के लिए निलंबित कर दिए गए. हंगामा बढ़ने पर पहले तो सदन थोड़ी देर के लिए स्थगित कर दिया गया लेकिन बाद में मार्शल ने आम आदमी पार्टी के पार्षदों को सदन से बाहर कर दिया. इस दौरान जमकर धक्का-मुक्की हुई.

आम आदमी पार्टी के पार्षद और उत्तरी दिल्ली नगर निगम में नेता विपक्ष सुरजीत पवार ने कहा कि बीजेपी ने अपनी तानाशाही दिखाते हुए बाउंसर्स की मदद से पार्टी पार्षदों की आवाज को दबाने की कोशिश की है लेकिन हम उन्हें चेताना चाहते हैं कि हमें चाहे जितना दबा लो, केजरीवाल सरकार के कार्यों को दबा नहीं पाओगे.

बाद में आम आदमी पार्टी के 25 पार्षदों को 15 दिन के लिए सदन से निलंबित कर दिया गया. कांग्रेस ने इस पूरे मामले में आम आदमी पार्टी और बीजेपी दोनों को घेरा. मामले पर कांग्रेस पार्षद दल के नेता मुकेश गोयल ने कहा कि बीजेपी और आम आदमी पार्टी क्रेडिट लेने की होड़ में लगे हुए हैं जबकि इस बीच दिल्ली में डेंगू तेजी से पांव पसारने लगा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay