एडवांस्ड सर्च

दिल्ली: जनकपुरी के गर्ल्स हॉस्टल में लगी आग, 6 लड़कियां अस्पताल में भर्ती

दिल्ली के जनकपुरी में एक गर्ल्स हॉस्टल में आग लगने का मामला सामने आया है. सुबह 3 बजकर 5 मिनट पर दमकल विभाग को एक फोन आया है, जिसमें A1/175 स्ठित कावेरी गर्ल्स हॉस्टल में आग लगने की बात कही गई.

Advertisement
aajtak.in
चिराग गोठी नई दिल्ली, 29 May 2019
दिल्ली: जनकपुरी के गर्ल्स हॉस्टल में लगी आग, 6 लड़कियां अस्पताल में भर्ती जनकपुरी में गर्ल्स हॉस्टल में लगी आग

दिल्ली के जनकपुरी में एक गर्ल्स हॉस्टल में आग लगने का मामला सामने आया है. इसकी वजह शोर्ट सर्किट बताई जा रही है, जिसमें हॉस्टल के दरवाज़ों और खिड़कियों को तोड़कर रेस्क्यू किया गया. सुबह 3 बजकर 5 मिनट पर दमकल विभाग को एक फोन आया, जिसमें A1/175 स्ठित कावेरी गर्ल्स हॉस्टल में आग लगने की बात कही गई. इसके लिए मौके पर फायर ब्रिगेड की 3 गाड़ियों को रवाना किया गया.

आग हॉस्टल के बेसमेंट और ग्राउंड फ्लोर और में लगी, बताया जा रहा है कि आग बेसमेंट की एंट्री पर बने इलैक्ट्रिक पैनल में लगी. इसके लिए मौके पर मौजूद फायर ब्रिगेड ने बचाव कार्य शुरू कर दिया, जिसमें 50 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया है. इसमें आग से हुए धुएं के कारण 6 लड़कियां बेहोश हो गईं और बढ़ती आग को देखकर एक लड़की ने दूसरी मंज़िल से ही छल्लांग लगा दी और वह गम्भीर रूप से घायल हो गई. घायलों का अस्पताल में इलाज चल रहा है.

delhi2_052919104608.jpgइलेक्ट्रिक पैनल में लगी आग

दरसल जनकपुर में टार्गेट पीएमटी नामक एक कोचिंग इंस्टिट्यूट है जिसने कावेरी गर्ल्स हॉस्टल को लीज़ पर ले रखा था. दूर दराज़ से आए इस इंस्टिट्यूट में पढ़ने वाले बच्चों को ये हॉस्टल इंस्टिट्यूट द्वारा ही मुहैया कराया गया है और इसी होस्टल में लड़कियां रहती हैं. तड़के सुबह जब आग लगी उस वक़्त होस्टल में 50 से ज़्यादा लड़कियाँ मौजूद थी. जनकपुरी के इस हॉस्टल में भी सुरक्षा के कोई पुख़्ता इंतज़ाम नहीं थे. ग़नीमत रही की कोई बड़ा हादसा होने से रह गया. बरहाल पुलिसमामले की जांच में जुट हुई है.

बता दें कि अभी कुछ दिनों पहले ही गुजरात के सूरत में आग लगने की बड़ी दुर्घटना सामने आई थी. गुजरात के सूरत में एक कोचिंग सेंटर में हुए अग्निकांड में 20 से ज्यादा बच्चों की जान जाने के बाद राजधानी दिल्ली में गैर कानूनी तरीके से सुरक्षा को ताक पर रखकर चलाए जा रहे कोचिंग को लेकर केजरीवाल सरकार और एमसीडी एक्शन मोड में आ गई थी. उसके बाद आज दिल्ली में गर्ल्स हॉस्टल में आग लगने का ये मामला सामने आया है.

delhi3_052919104659.jpgहॉस्टल में लगी आग पर बचाव कार्य जारी

सूरत जैसी स्थिति से बचने के लिए केजरीवाल सरकार और MCD ने कोचिंग मालिकों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है जो बिना सुरक्षा मानकों के दिल्ली में अपनी कोचिंग क्लास चला रहे हैं. इसके अलावा केजरीवाल सरकार ने ऐसी किसी भी अनहोनी को रोकने के लिए सोमवार को इमारतों से संबंधित कई आदेश जारी किए हैं. दिल्ली सरकार के शहरी विकास मंत्री सत्येंद्र जैन ने अधिकारियों के साथ बैठक के बाद नए निर्देश जारी किए.

इसके मुताबिक अब किसी भी इमारत की छत पर रसोई बनाना या वहां रसोई से संबंधित किसी भी क्रियाकलाप पर पूरी तरह से बैन है. सिर्फ इमारत की छत ही नहीं, बल्कि उसके बेसमेंट के हिस्से में भी अब खाना बनाने या रसोई बनाने पर पूर्णतया प्रतिबंध लगाया गया है. दिल्ली सरकार के नए दिशा निर्देशों के मुताबिक अब किसी भी इमारत की छत पर किसी भी तरह के ज्वलनशील पदार्थ के संग्रह पर रोक रहेगी, जिसमें पेट्रोल-डीजल भी शामिल हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay