एडवांस्ड सर्च

कल मिल सकता है दिल्ली कांग्रेस को अध्यक्ष, BJP से आया ये नेता रेस में आगे

शीला दीक्षित के निधन के बाद से ये पोस्ट खाली चल रही है और अब इसके लिए कई दावेदारों के नाम आगे आ रहे हैं. पूर्व क्रिकेटर और पूर्वांचली नेता कीर्ति आजाद इस रेस में सबसे आगे माने जा रहे हैं. कीर्ति के अलावा संदीप दीक्षित और जेपी अग्रवाल भी अध्यक्ष की फेहरिस्त में हैं.

Advertisement
aajtak.in
कुमार कुणाल नई दिल्ली, 10 October 2019
कल मिल सकता है दिल्ली कांग्रेस को अध्यक्ष, BJP से आया ये नेता रेस में आगे दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष के नाम का शुक्रवार को हो सकता है ऐलान (फोटो-ट्विटर)

  • शुक्रवार को हो सकता है दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष का ऐलान
  • अध्यक्ष की रेस में सबसे आगे पूर्व क्रिकेटर कीर्ति आजाद

दिल्ली में विधानसभा चुनाव का कार्यक्रम जनवरी में बन सकता है और फरवरी में मतदान हो सकता है. इन चर्चाओं के बीच खाली पड़ी दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष की कुर्सी भी जल्द भरी जा सकती है. बताया जा रहा है कि दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष के नाम की घोषणा कल (शुक्रवार) तक की जा सकती है.

शीला दीक्षित के निधन के बाद से ये पोस्ट खाली चल रही है और अब इसके लिए कई दावेदारों के नाम आगे आ रहे हैं. पूर्व क्रिकेटर और पूर्वांचली नेता कीर्ति आजाद इस रेस में सबसे आगे माने जा रहे हैं. कीर्ति के अलावा संदीप दीक्षित और जेपी अग्रवाल भी अध्यक्ष की फेहरिस्त में हैं.

जुलाई में हुआ था शीला दीक्षित का निधन

बीते जुलाई में शीला दीक्षित का निधन हो गया था और उसके बाद से ही दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष की कुर्सी खाली है. अब जबकि दिल्ली में विधानसभा चुनाव की सरगर्मियां बढ़ रही हैं तो पार्टी जल्द ही प्रदेश का नया मुखिया तय करने की योजना बना रही है.

शीला दीक्षित के निधन के बाद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने दिल्ली के नेताओं और प्रदेश के जनरल सेक्रेटरी इंचार्ज पीसी चाको से मुलाकात की थी, लेकिन अध्यक्ष की घोषणा नहीं हो पाई थी.

कीर्ति आजाद सबसे आगे

दिल्ली कांग्रेस में अध्यक्ष पद के लिए कई दावेदार हैं और गुटों में बंटी कांग्रेस के लिए अध्यक्ष बनाने की चुनौती भी कम नहीं है. पार्टी में गुटबाजी को देखते हुए ही कीर्ति आजाद को रेस में सबसे आगे बताया जा रहा है. कीर्ति न सिर्फ क्रिकेट के अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी रह चुके हैं, बल्कि बिहार के दरभंगा से दो बार सांसद भी रह चुके हैं.

कीर्ति का दिल्ली की सियासत से पुराना नाता भी है. 1993 में वो गोल मार्केट विधानसभा क्षेत्र से बीजेपी के विधायक रहे हैं. इसके बाद 1998 में उन्होंने शीला दीक्षित के खिलाफ गोल मार्केट से ही चुनाव लड़ा था और हार गए थे. इसी साल फरवरी में कीर्ति आजाद ने बीजेपी छोड़ कांग्रेस से लोकसभा चुनाव लड़ा, जहां झारखंड की धनबाद सीट से वो चुनाव हार गए.

बीजेपी और आम आदमी पार्टी की नजर पूर्वांचल वोट बैंक पर हैं. ऐसे में कीर्ति को अध्यक्ष बनाकर कांग्रेस भी इस वोट बैंक के लिए एक प्रमुख दावेदार बनना चाहती है.

ये भी हैं दावेदार

कीर्ति के अलावा दिल्ली कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष जे पी अग्रवाल भी अध्यक्ष पद की रेस में हैं. जे पी अग्रवाल को सोनिया गांधी का करीबी माना जाता है और साथ ही पुराने कांग्रेसी नेताओं में उनको लगातार तरजीह दी जाती रही है. जे पी अग्रवाल के अलावा संदीप दीक्षित भी अध्यक्ष की कुर्सी के प्रमुख दावेदार हैं. संदीप दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के बेटे हैं और साथ ही पूर्वी दिल्ली से दो बार सांसद भी रह चुके हैं. शीला दीक्षित के समर्थकों में संदीप की अच्छी पैठ है.

नए चेहरे की भी चर्चा

पार्टी में किसी नए और युवा चेहरे को भी मौका देने की चर्चा है, जिन्हें आगे आने वाले समय में दिल्ली के भविष्य के तौर पर युवाओं के बीच मौका मिले. फिलहाल, दिल्ली कांग्रेस में तीन कार्यकारी अध्यक्ष हैं, जिनमें हारून यूसुफ, देवेंद्र यादव और राजेश लिलोथिया शामिल हैं. इन सबके अलावा कुछ और युवा चेहरे और पार्टी प्रवक्ता भी अध्यक्ष बनने की दौड़ में शामिल हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay