एडवांस्ड सर्च

दिल्लीः विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस में गुटबाजी, शीला दीक्षित की तबीयत नासाज

दिल्ली कांग्रेस दफ्तर में प्रदेश अध्यक्ष, कार्यकारी अध्यक्ष और ब्लॉक ऑब्जर्वर के बिना ही बैठकें हो रही हैं. आगामी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की राह में बहुत से रोड़े हैं. प्रदेश अध्यक्ष शीला दीक्षित की तबीयत नासाज चल रही है.

Advertisement
aajtak.in
मणिदीप शर्मा नई दिल्ली, 17 July 2019
दिल्लीः विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस में गुटबाजी, शीला दीक्षित की तबीयत नासाज दिल्ली कांग्रेस की अध्यक्ष शीला दीक्षित (फाइल फोटो)

दिल्ली में कांग्रेस पार्टी इन दिनों बुरे दौर से गुजर रही है. एक तरफ प्रदेश नेताओं में गुटबाजी हावी है, तो दूसरी तरफ दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित की तबीयत नासाज चल रही है. ऐसे में 6 महीने बाद होने वाले दिल्ली विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी कैसे मजबूती से लड़ पाएगी, इसे लेकर सवाल उठ रहे हैं.

दिल्ली कांग्रेस दफ्तर में प्रदेश अध्यक्ष, कार्यकारी अध्यक्ष और ब्लॉक ऑब्जर्वर के बिना ही बैठकें हो रही हैं. विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की राह में बहुत से रोड़े हैं. उनमें प्रदेश अध्यक्ष शीला दीक्षित की खराब तबीयत सबसे बड़ा रोड़ा है. सूत्रों के मुताबिक पिछले 15-16 दिन से शीला दीक्षित दिल्ली कांग्रेस दफ्तर नहीं आई हैं. कांग्रेस ब्लॉक भंग कर दिए गए हैं. प्रभारी पीसी चाको से बन नहीं रही है. तीनों कार्यकारी अध्यक्ष पत्र लिखकर नाराजगी जता चुके हैं और ब्लॉक ऑब्जर्वर की बैठक बिना प्रदेश और कार्यकारी अध्यक्ष के हो रही हैं.

मगर कांग्रेस के नवनिर्वाचित ब्लॉक आब्जर्वरस को यकीन है कि कांग्रेस की स्थिति जल्द सुधरेगी. चुनाव से पहले शीला दीक्षित सेहत सुधार कर लौटेंगी और कांग्रेस दिल्ली में चुनाव जीतकर सरकार बनाएगी. कांग्रेस पार्टी में चल रही चिट्ठीबाजी को पार्टी प्रवक्ता जितेंद्र कोचर महज मीडिया के कयास बताकर बचते हुए दिखाई दे रहे हैं. मगर कांग्रेस दफ्तर में पड़ी हुई खाली कुर्सियां सच अपने आप बयां कर रही हैं.

दिल्ली कांग्रेस में जारी गुटबाजी और नेतृत्व की सुस्ती बेहद चिंताजनक है. आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद से कांग्रेस पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं. कांग्रेस लोकसभा चुनाव में दिल्ली की सभी सातों सीटें हार गई थी. लोकसभा चुनाव में हार के बाद राहुल गांधी ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है. इसके बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया समेत कई नेताओं ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. फिलहाल कांग्रेस नेतृत्व की कमी से जूझ रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay