एडवांस्ड सर्च

दिल्ली कांग्रेस में कलह, चाको की चिट्ठी के बाद शीला दीक्षित ने किया ये बड़ा बदलाव

दिल्ली कांग्रेस प्रभारी पीसी चाको ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित को चिट्ठी लिखकर कर कहा कि आपकी सेहत ठीक नहीं है, ऐसे में तीनों कार्यकारी अध्यक्ष स्वतंत्र रूप से काम करेंगे. तीनों कार्यकारी अध्यक्षों को भी चाको ने चिट्ठी लिखकर इस बात की सूचना दी और कहा कि आप बैठकें ले सकते हैं.

Advertisement
aajtak.in
मणिदीप शर्मा नई दिल्ली, 17 July 2019
दिल्ली कांग्रेस में कलह, चाको की चिट्ठी के बाद शीला दीक्षित ने किया ये बड़ा बदलाव फाइल फोटो- शीला दीक्षित (फोटो-IANS)

दिल्ली में कांग्रेस पार्टी दो गुटों में बंटती नजर आ रही है. पार्टी प्रभारी पीसी चाको और प्रदेश अध्यक्ष शीला दीक्षित के बीच अनबन की खबरें अब कांग्रेस पार्टी के दफ्तर से बाहर आ चुकी हैं. दोनों दिग्गज नेताओं की ओर से ऐसे निर्णय लिए जा रहे हैं जिन्हें देखकर लगता है कि दोनों के बीच संबंध सामान्य नहीं है.

इसी बीच दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष शीला दीक्षित ने उन तीन कार्यकारी अध्यक्षों का तबादला कर दिया है, जिन्हें पीसी चाको ने स्वतंत्र निर्णय लेने का अधिकार दिया था. दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता शीला दीक्षित ने पार्टी में बड़ा बदलाव किया है.

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष शीला दीक्षित ने तीन कार्यकारी अध्यक्षों के पद बदल दिए हैं. कांग्रेस नेता हारून यूसुफ और देवेंद्र यादव को दिल्ली यूनिवर्सिटी तक सीमित कर दिया है.

हारून यूसुफ को आगामी दिल्ली यूनिवर्सिटी चुनाव की जिम्मेदारी दी गई है. अब हारून यूसुफ आगामी दिल्ली यूनिवर्सिटी के चुनाव के लिए NSUI का काम देखेंगे. यही जिम्मेदारी देवेंद्र यादव को भी दी गई है. इस एक्शन नोट में राजेश लिलोठिया का भी नाम है. उन्हें नॉर्थ दिल्ली नगर निगम, साउथ दिल्ली नगर निगम और यूथ कांग्रेस की जिम्मेदारी दी गई है.

दिल्ली कांग्रेस में पार्टी प्रभारी पीसी चाको और प्रदेश अध्यक्ष शीला दीक्षित के बीच मतभेदों की खबरें नई नहीं हैं. कांग्रेस अध्यक्ष के पद से राहुल गांधी के इस्तीफे के बाद से ही कांग्रेस में आंतरिक विवाद बढ़ता जा रहा है. कांग्रेस के नेता आपस में ही उलझ रहे हैं.

कांग्रेस अध्यक्ष पद से राहुल गांधी के इस्तीफे के बाद पार्टी में खींचतान बढ़ती जा रही है. इस बीच दिल्ली कांग्रेस प्रभारी पीसी चाको ने प्रदेश अध्यक्ष शीला दीक्षित को चिट्ठी लिखकर फोन न उठाने की शिकायत की है. इसके साथ ही चाको ने शीला से कहा कि आपकी सेहत ठीक नहीं है. ऐसे में तीनों कार्यकारी अध्यक्ष स्वतंत्र रूप से काम करेंगे.

शीला दीक्षित के अलावा पीसी चाको ने तीनों कार्यकारी अध्यक्ष हारून यूसुफ, राजेश लिलोठिया और देवेंद्र यादव को भी चिट्ठी लिखी है. इसमें कहा कि आप बैठकें ले सकते हैं. इससे पहले तीनों कार्यकारी अध्यक्षों ने शीला दीक्षित को चिट्ठी लिखी थी. इसमें कहा गया था कि पार्टी के निर्णयों में उन्हें भरोसे में नहीं लिया जा रहा है.

पीसी चाको ब्लॉक कमेटी भंग करने के फैसले पर भी सवाल उठाया था. चाको ने कहा कि ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी और कार्यकारी अध्यक्ष (फिलहाल अध्यक्ष कोई नहीं है) की सहमति के बगैर प्रदेश ब्लॉक अध्यक्ष कमेटी को भंग नहीं किया जा सकता. चाको के मुताबिक नए ब्लॉक कमेटी के गठन के लिए पर्यवेक्षक भी नियुक्त नहीं किए जा सकते.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay