एडवांस्ड सर्च

दिल्ली में वायु प्रदूषण से 28 वर्षीय युवती को लंग कैंसर, ऐसा पहला मामला

दिल्ली के सर गंगाराम हॉस्पिटल में एक लंग कैंसर की मरीज भर्ती हुई है. यह 28 साल की एक यंग प्रोफेशनल युवती है जो नॉन स्मोकर है. उसे चौथी स्टेज का लंग कैंसर हुआ है.

Advertisement
aajtak.in
अंकित यादव नई दिल्ली, 31 July 2019
दिल्ली में वायु प्रदूषण से 28 वर्षीय युवती को लंग कैंसर, ऐसा पहला मामला दिल्ली में बढ़ता वायु प्रदूषण (फोटो-अंकित यादव)

देश की राजधानी दिल्ली में अगर आप रहते हैं तो भले ही आप नॉनस्मोकर हों लेकिन यहां की जहरीली हवा आपको लंग कैंसर का शिकार बना सकती है. दिल्ली के सर गंगाराम हॉस्पिटल में एक ऐसा ही मामला सामने आया है. जहां 28 साल की एक यंग प्रोफेशनल जो नॉनस्मोकर है, उसे चौथी स्टेज का लंग कैंसर हुआ है.

हालांकि मरीज की पहचान का खुलासा नहीं किया गया है लेकिन इतना बताया गया है कि पीड़ित लड़की कई साल तक दिल्ली के गाजीपुर इलाके में रहती थी. आपको बता दें दिल्ली का गाजीपुर इलाका बेहद प्रदूषित इलाका माना जाता है क्योंकि वहां पर लैंडफिल साइट भी है.

इस मामले में सर गंगा राम हॉस्पिटल के चेस्ट सर्जन डॉ. अरविंद कुमार से बात की तो उन्होंने बताया कि हमने जब यह आइडेंटिफाई किया कि 28 साल की इस युवती को लंग कैंसर है, तो हम हैरान रह गए. एक ऐसी लड़की जो खुद नॉनस्मोकर है और जिसकी पूरी फैमिली में कोई स्मोक नहीं करता. डॉ. अरविंद कुमार के मुताबिक उसे फोर्थ स्टेज का लंग कैंसर हुआ है.

इस बात का बहुत असर पड़ता है कि लड़की दिल्ली के एक प्रदूषित इलाके में रहती है क्योंकि हवा की कोई बाउंड्रीज नहीं होती है. इसलिए पूरी दिल्ली में इसका प्रभाव है. चेस्ट सर्जन डॉ. अरविंद के मुताबिक जो केमिकल सिगरेट में होते हैं वही केमिकल दिल्ली की हवा में भी है. छोटे बच्चे जन्म से ही जहरीली हवा ले रहे हैं. आम तौर पर कई ऐसे मामले आए हैं जब 30 साल के बाद के लोगों में लंग कैंसर के मामले होते हैं. लेकिन यह पहला मामला है जब 30 से कम उम्र में एक युवा प्रोफेशनल को कैंसर हुआ.

image-26_073019075621.png छोटे बच्चे जन्म से ही ले रहे हैं जहरीली हवा

डॉ. अरविंद कहते हैं कि जब आप दिल्ली में रहते हैं तो आप भले ही सिगरेट ना पिएं लेकिन आप नॉनस्मोकर नहीं हो सकते. दिल्ली में 5 सिगरेट से 10-20 सिगरेट तक का धुआं हवा में मौजूद है. दिल्ली की हवा अगर साफ हो तो हर व्यक्ति की उम्र 10 वर्ष बढ़ सकती है.

दूसरी तरफ यह मामला अब सियासी तौर पर भी तूल पकड़ने लगा है. दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने दिल्ली में प्रदूषण के मामले को अब संसद में भी उठाने की बात कही है. मनोज तिवारी ने कहा है कि वह इस मामले को जीरो आवर में लिस्ट कराने जा रहे हैं.

मनोज तिवारी के मुताबिक दिल्ली में प्रदूषण से लड़ने का जिम्मा केजरीवाल सरकार के पास है और वह इस पूरे काम में बुरी तरह से फेल हो चुकी है. दिल्ली में वायु प्रदूषण को लेकर अरविंद केजरीवाल ने बयान देकर कहा कि हम इसे लेकर गंभीर हैं. जल्द नई डीटीसी बसें आ रही है. प्रदूषण के प्रति हमारी सरकार बेहद चिंतित है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay