एडवांस्ड सर्च

सीएम पद के उम्मीदवार को लेकर दिल्ली बीजेपी में छिड़ा संग्राम

दिल्ली बीजेपी की अंदरूनी कलह इतनी बढ़ गई है कि चुनावी लड़ाई से पहले नेता आपस में कौन बनेगा मुख्यमंत्री की लड़ाई लड़ रहे हैं. मुख्यमंत्री उम्मीदवार के तौर पर डॉक्‍टर हर्षवर्धन के नाम की चर्चा शुरु हुई, तो विजय गोयल खेमा भी सक्रिय हो गया. इस बीच दिल्ली बीजेपी ने कहा है कि फिलहाल मुख्यमंत्री के उम्मीदवार पर फैसला नहीं हुआ है.

Advertisement
aajtak.in
कपिल शर्मा [ Edited By: अमर कुमार]नई दिल्ली, 07 August 2013
सीएम पद के उम्मीदवार को लेकर दिल्ली बीजेपी में छिड़ा संग्राम दिल्ली बीजेपी में कलह

दिल्ली बीजेपी की अंदरूनी कलह इतनी बढ़ गई है कि चुनावी लड़ाई से पहले नेता आपस में कौन बनेगा मुख्यमंत्री की लड़ाई लड़ रहे हैं. मुख्यमंत्री उम्मीदवार के तौर पर डॉक्‍टर हर्षवर्धन के नाम की चर्चा शुरु हुई, तो विजय गोयल खेमा भी सक्रिय हो गया. इस बीच दिल्ली बीजेपी ने कहा है कि फिलहाल मुख्यमंत्री के उम्मीदवार पर फैसला नहीं हुआ है.

पार्टी की अंदरूनी खबरों ने दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष विजय गोयल की नींद उड़ा दी है. सीएम उम्मीदवार के तौर पर हर्षवर्धन के नाम की चर्चा चली, तो गोयल को अपनी जमीन खिसकती नजर आयी. ऐसे में उन्हें राहत देने दिल्ली बीजेपी के प्रभारी नितिन गडकरी आए.

गडकरी ने कहा है कि मुख्यमंत्री उम्मीदवार पर कोई फैसला नहीं हुआ है और प्रदेश अध्यक्ष को हटाने की जो खबरें चल रही हैं, वो गलत हैं. विजय गोयल प्रदेश अध्यक्ष बने रहेंगे.

गडकरी के बयान से गोयल को नींद तो आ जाएगी लेकिन मुश्किलें खत्म नहीं हुई हैं, क्योंकि गोयल विरोधी नेता पार्टी के भीतर उनके खिलाफ माहौल बनाने में कसर बाकी नहीं रख रहे. इसीलिए अब चौकन्ने गोयल ने भी गेंद गडकरी के पाले में ही डाल दी है.

प्रदेश अध्यक्ष पद पर गोयल की ताजपोशी के बाद से ही विजेंद्र गुप्ता, वी के मल्होत्रा, हर्षवर्धन और आरती मेहरा जैसे दिल्ली के नेता नाराज़ हैं और इसीलिए अब पार्टी नेतृत्व पर सीएम उम्मीदवार घोषित करने के लिए दबाव बना रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay