एडवांस्ड सर्च

कोरोना संकट पर अरविंद केजरीवाल बोले- कोई भूख से न मरे, अभी लंबी लड़ाई बाकी है

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए दिल्ली में कर्फ्यू लगाया गया है. उन्होंने बताया कि दिल्ली में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या में कमी आई है. 23 मरीजों का इलाज जारी है. कोरोना वायरस से अभी लड़ाई लंबी है.

Advertisement
aajtak.in
पंकज जैन नई दिल्ली, 24 March 2020
कोरोना संकट पर अरविंद केजरीवाल बोले- कोई भूख से न मरे, अभी लंबी लड़ाई बाकी है दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

  • सीएम केजरीवाल ने की दिल्ली में कर्फ्यू की घोषणा
  • CM बोले- दिल्ली में कोरोना के मरीजों की संख्या में आई कमी

कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए दिल्ली में कर्फ्यू लगा दिया गया है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को इसकी घोषणा की. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए दिल्ली में कर्फ्यू लगाया गया है. उन्होंने बताया कि दिल्ली में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या में कमी आई है. ये अच्छी खबर है, लेकिन हमें अभी खुश नहीं होना चाहिए. लड़ाई अभी लंबी है. मरीजों की संख्या में कभी इजाफा हो सकता है. हमें अलर्ट रहना होगा.

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पिछले 40 घंटे में किसी भी मरीज का टेस्ट पॉजिटिव नहीं पाया गया. 30 मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं. दिल्ली में अभी सिर्फ 23 मरीज हैं. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा कि हमने 5 लोगों की टीम बनाई है, जो बताएगी कि अगर कोरोना थर्ड स्टेज में आता है तो हमें क्या करना होगा.

ये भी पढ़ें- LIVE: महाराष्ट्र में कोरोना के 6 नए मामले, देशभर में 536 पहुंची मरीजों की तादाद

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में कई दिहाड़ी मजदूर हैं जो किराए के घरों में रहते हैं. यदि किरायेदार अपने मकान मालिकों को किराए का भुगतान करने की स्थिति में नहीं हैं, तो उन्हें 2-3 महीने के लिए कुछ रियायत दी जा सकती है. उन्होंने कहा कि मुझे यह देखकर खुशी हुई कि लोग एक-दूसरे की मदद कर रहे हैं. मुझे यकीन है कि हम जल्द ही इस संकट से सफलतापूर्वक निपटेंगे.

ये भी पढ़ें- कोरोना संकट के बीच सरकार के 10 बड़े ऐलान, यहां जानें-आपको क्या मिला

सीएम केजरीवाल ने कहा कि जिनको खाने की किल्लत हो वो रैन बसैरों में जाएं. कोई भी भूख से न मरें. उन्होंने बताया कि दिल्ली सरकार कंस्ट्रक्शन साइट पर काम करने वाले मजदूरों को 5000 रुपये देगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay