एडवांस्ड सर्च

दिल्लीवासियों को बड़ी राहत, जेवर एयरपोर्ट को मिली अंतिम मंजूरी

केंद्र सरकार द्वारा जेवर एयरपोर्ट के निर्माण को अंतिम सैद्धांतिक मंजूरी दे दी गई है. मंगलवार को हुई संचालन समिति की बैठक में इससे संबंधित कई और महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए.

Advertisement
Assembly Elections 2018
aajtak.in [Edited By: अनुराग शर्मा]नई दिल्ली, 26 April 2018
दिल्लीवासियों को बड़ी राहत, जेवर एयरपोर्ट को मिली अंतिम मंजूरी Representational image

केंद्र सरकार द्वारा जेवर एयरपोर्ट के निर्माण को अंतिम सैद्धांतिक मंजूरी दे दी गई है. मंगलवार को हुई संचालन समिति की बैठक में इससे संबंधित महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए.

सरकार द्वारा दिल्लीवासियों को राहत देने के लिए गौतमबुद्ध नगर में जेवर के नजदीक अंतराष्ट्रीय हवाई अड्डे के निर्माण पर विचार हो रहा था, जिसके लिए मंगलवार को हुई बैठक में केंद्र सरकार द्वारा हरी झंडी दिखा दी गई और ढांचा भी तैयार किया गया. बैठक में मौजूद मुख्य सचिव (नागरिक उड्डयन) एस.पी.गोयल, विशेष सचिव (नागरिक उड्डयन) सुर्यपाल गंगवार सहित अन्य उच्चाधिकारियों द्वारा इसपर विचार-विमर्श कर मंजूरी दी गई.

एयरपोर्ट के बनाए जाएंगे 2 रन-वे

बैठक में पेश की गई रिपोर्ट के अनुसार, एयरपोर्ट को 8 गांव की 1441 हेक्टेयर जमीनों का अधिग्रहण कर पीपीपी मोड द्वारा बनाया जाएगा. पूरे प्रॉजेक्ट की लागत 15,754 करोड़ रुपये निर्धारित की गई है. एयरपोर्ट के 2 रन-वे बनाए जाएंगे, जिसकी क्षमता सलाना 7 करोड़ यात्री और 30 लाख मेट्रिक टन भार को संभालने की होगी. शुरुआती दौर में एक रन-वे बनाकर ही एयरपोर्ट का संचालन शुरु कर दिया जाएगा.

2022-23 में 68 गंतव्यों की उड़ानों के साथ शुरू होगा एयरपोर्ट

नोडल एजेंसी द्वारा जून तक ग्लोबल टेंडर जारी कर दिया जाएगा. उसके बाद अक्टूबर तक एयरपोर्ट के निर्माण कार्य का शिलान्यास कर दिया जाएगा. रिपोर्ट के मुताबिक नींव रखने के 36 महीनों बाद एयरपोर्ट पर हवाई संचालन शुरू कर दिया जाएगा. साथ ही 2022-23 के दौरान 68 गंतव्यों पर विमान सेवा शुरू हो जाएगी, जिसमें से 8 घरेलू और 60 विदेशी गंतव्य होंगे.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay