एडवांस्ड सर्च

AAP का हरियाणा जोड़ो आंदोलन, केजरीवाल ने बनाया पार्टी को मजबूत करने का प्लान

इस बैठक में यह तय किया गया कि सभी विधानसभाओं में ऑब्जरवेशन के लिए प्रदेश/ केंद्रीय कार्यालय से एक आब्जर्वर भेजा जाएगा. जो पदाधिकारीयों के काम में मदद करने के साथ-साथ संगठन और कामों का अवलोकन करेंगे और प्रतिदिन उसकी रिपोर्ट केंद्र को भेजेंगे.

Advertisement
aajtak.in
अजीत तिवारी/ पंकज जैन नई दिल्ली, 10 August 2018
AAP का हरियाणा जोड़ो आंदोलन, केजरीवाल ने बनाया पार्टी को मजबूत करने का प्लान बैठक के दौरान आप नेता

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल के घर शुक्रवार को हरियाणा जोड़ो अभियान के तहत हरियाणा के सभी पदाधिकारियों की बैठक हुई. इस बैठक में अरविंद केजरीवाल, दिल्ली प्रदेश संयोजक गोपाल राय और हरियाणा के प्रदेश संयोजक नवीन जयहिंद मौजूद रहे.

हरियाणा में AAP की रणनीति की 10 मुख्य बातें...

1- दिल्ली की तरह 12 अगस्त 2018 को रविवार के दिन सभी विधानसभा स्तर पर प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया जाएगा, जिसमें सभी हल्कों के उपाध्यक्ष, मंडल अध्यक्ष, बूथ अध्यक्ष तथा पूरे विधानसभा के सभी कार्यकर्ताओं को बुलाकर उन्हें प्रशिक्षण दिया जाएगा.

2- 12 अगस्त को विधानसभावार हो रहे प्रशिक्षण शिविर में प्रमुख रूप से सभी विधानसभा उपाध्यक्ष के साथ मंडल अध्यक्ष, बूथ अध्यक्ष, तथा कार्यकर्ताओं को मिलाकर टीम तैयारी की जाएगी.

3- हल्का उपाध्यक्ष को जिम्मेदारी देनी है कि उसकी अधिकार में आने वाले सभी पांच मंडलों में गांव/मोहल्ला से प्रथम चरण में हरियाणा जोड़ो अभियान के दौरान जुड़े हुए नए सदस्यों के साथ द्वितीय चरण के हरियाणा जोड़ो अभियान के लिए गांव की तैयारी बैठक (13 से 15 अगस्त 2018)  की तारीख और समय सुनिश्चित करना है.

4- 12 अगस्त 2018 को विधानसभा पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं की बैठक खत्म होने के बाद 13 तारीख से सभी हल्का उपाध्यक्ष अपने-अपने मंडल/पोलिंग स्टेशन में आने वाले गांव/मोहल्लों में पहले से सुनिश्चित बैठकों में हिस्सा लेंगे.

5- हल्का उपाध्यक्ष गांव/मोहल्ले में बैठक के लिए जाएंगे, नवनियुक्त सदस्यों को अरविंद केजरीवाल का पत्र देकर उनका पार्टी में स्वागत करेंगे, उनके साथ बैठकर आम आदमी पार्टी की विचारधारा, अरविंद केजरीवाल के दिल्ली सरकार के कामों पर तथा पार्टी के सभी विषयों पर सकारात्मक और नकारात्मक सभी प्रश्नों पर चर्चा करेंगे. उसके बाद पूछेंगे कि क्या आप अब भी आम आदमी पार्टी में जुड़े रहने के लिए, समय देने के लिए और काम करने के लिए तैयार हैं. अब जो भी साथी तैयार होंगे उनसे शपथ पत्र भरवाकर एक-एक करके सभी को शपथ दिलाने का काम करेंगे.

6- सभी सदस्यों से शपथ पत्र भरवाने के बाद, उस गांव के लिए उनमें से एक अध्यक्ष और एक उपाध्यक्ष की नियुक्ति करेंगे. उसके बाद सभी साथियों से उनके गांव में चार से पांच बैठक आयोजित करने के लिए कहेंगे, जिसकी पूरी जिम्मेदारी आए हुए सदस्यों को ही देनी है.

7- सभा की तारीख तय करते समय हल्का उपाध्यक्ष को अपने समय की उपलब्धता का ध्यान रखना है, एक गांव में एक दिन में एक ही बैठक करनी है क्योंकि हल्का उपाध्यक्ष के पास 5 पोलिंग स्टेशन/मंडल हैं, प्रत्येक दिन कम से कम 3 अलग-अलग गांव में एक एक हरियाणा जोड़ो अभियान सभा करना अनिवार्य है.

8- जिस प्रकार प्रथम चरण में हरियाणा जोड़ो अभियान की सभा की थी उसी प्रकार इन सभाओं के लिए भी, सभा से पहले लाउडस्पीकर से मुनादी करवाना है, पर्चे बटवाने हैं, अरविन्द केजरीवाल का ऑडियो सन्देश चलाना है तथा रजिस्टर में सबकी उपस्थिति दर्ज करानी है, उसके बाद सभा का आयोजन करना है. पहले चरण में जिस प्रकार से सदस्य बनाने का काम किया था इस चरण में भी वैसे ही सदस्य बनाने हैं!

9- सभी सभाओं में मुनादी के लिए हैंड माइक, पर्चा, टोपियां, सदस्यता रसीद तथा उपस्थिति रजिस्टर में उपस्थिति दर्ज कराने की जिम्मेदारी हल्का उपाध्यक्ष की होगी.

10 - सभी विधानसभाओं में ऑब्जरवेशन के लिए प्रदेश/ केंद्रीय कार्यालय से एक आब्जर्वर भेजा जाएगा. जो पदाधिकारीयों के काम में मदद करने के साथ-साथ संगठन और कामों का अवलोकन करेंगे और प्रतिदिन उसकी रिपोर्ट केंद्र को भेजेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay