एडवांस्ड सर्च

निलंबन रद्द होने के बाद अमानतुल्ला बोले- नहीं हुआ कुमार विश्वास से कभी आमना-सामना

अमानतुल्ला खान आज भले कुमार विश्वास से नाराजगी की बात से इनकार कर रहे हों, लेकिन जब उन्हें निलंबित किया गया था तब उन्होंने आजतक से बातचीत में कुमार विश्वास पर बीजेपी के इशारों पर काम करने और पार्टी तोड़ने जैसे संगीन आरोप लगाए थे.

Advertisement
aajtak.in
पंकज जैन नई दिल्ली, 30 October 2017
निलंबन रद्द होने के बाद अमानतुल्ला बोले- नहीं हुआ कुमार विश्वास से कभी आमना-सामना AAP नेता अमानतुल्ला खान का पार्टी से निलंबन रद्द

आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्ला खान का पार्टी से निलबंन सोमवार को रद्द कर दिया गया. ऐसा कहा जाता रहा है कि AAP के सीनियर लीडर की अमानतुल्ला को निलंबित करवाने में अहम भूमिका रही थी. लेकिन अमानतुल्ला ने कुमार विश्वास से किसी तरह की अनबन से साफ इनकार किया है.

दक्षिणी दिल्ली के ओखला से विधायक अमानतुल्ला खान ने आजतक से कहा, "मुझे पार्टी नेता आशुतोष का फोन आया था कि आपका निलम्बन वापिस लिया जाता है. मेरा कुमार विश्वास से न आमना सामना हुआ न कभी बातचीत हुई. कुमार विश्वास सीनियर लीडर हैं. उस वक्त उनकी नाराजगी दूर करने अरविंद गए थे, क्योंकि पार्टी को बांधे रखने मुखिया की जिम्मेदारी है."

गुजरता चुनाव के मद्देनजर रद्द हुआ निलंबन

उन्होंने कहा, "पार्टी से बाहर होने की वजह से पार्टी गतिविधियों में हिस्सा नहीं ले पा रहा था. अभी गुजरात और उत्तर प्रदेश में चुनाव हैं जहां मेरी जरूरत समझी गयी है. पार्टी पोलिटिकल अफेयर कमेटी (PAC) में वापसी के लिए पार्टी ही फैसला लेगी. मैंने अपने बयान पर कमिटी को लिखित में जवाब दे दिया है. पार्टी के विधायक इस वक्त एक साथ हैं, पूरी पार्टी अरविंद केजरीवाल के साथ एकजुट है. इस वक्त सभी को पार्टी के लिए काम करना चाहिए."

अमानतुल्ला खान आज भले कुमार विश्वास से नाराजगी की बात से इनकार कर रहे हों, लेकिन जब उन्हें निलंबित किया गया था तब उन्होंने आजतक से बातचीत में कुमार विश्वास पर तीन बड़े आरोप लगाए थे.

इस बयान पर हुआ था विवाद

जिस बयान से विवाद खड़ा हुआ था उसमें अमानतुल्ला खान ने कुमार विश्वास पर बीजेपी के इशारे पर चलने का आरोप लगाते हुए कहा था कि 'कुमार विश्वास AAP को हड़पना चाहते हैं और तोड़ना चाहते हैं. कुमार अपने घर में विधायकों को बुलाकर यह कह रहे हैं कि मुझे पार्टी का संयोजक बनवाओ, नहीं तो बीजेपी में चलो. बीजेपी हर एक को 30 करोड़ देने के लिए तैयार है'.

विश्वास पर पार्टी तोड़ने का गंभीर आरोप

अमानतुल्ला खान ने कहा था कि उन्हें लगता है यह सब बीजेपी के इशारे पर हो रहा है और इस काम के लिए बीजेपी ने 4 विधायक छोड़े हुए हैं. बीजेपी के ये चारों विधायक AAP के विधायकों को कुमार विश्वास के घर ले जाते हैं, इस बात की तस्दीक AAP के तमाम विधायकों ने की.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay