एडवांस्ड सर्च

कुमार विश्वास पर AAP में दो फाड़, कपिल मिश्रा साथ, तो अमानतुल्ला ने बताया BJP एजेंट!

एमसीडी चुनाव में हार के बाद AAP में कोहराम मचा है. एक तरफ कुमार विश्वास के उठाए सवालों को केजरीवाल सरकार में मंत्री कपिल मिश्रा समर्थन करते नजर आए, वहीं दूसरी तरफ जामियानगर से विधायक अमानतुल्ला खान ने विश्वास के खिलाफ बड़ा बयान दिया है.

Advertisement
aajtak.in
अमित कुमार दुबे/ पंकज जैन / मणिदीप शर्मा नई दिल्ली, 01 May 2017
कुमार विश्वास पर AAP में दो फाड़, कपिल मिश्रा साथ, तो अमानतुल्ला ने बताया BJP एजेंट! AAP में घमासान

एमसीडी चुनाव में हार के बाद AAP में कोहराम मचा है. एक तरफ कुमार विश्वास के उठाए सवालों पर केजरीवाल सरकार में मंत्री कपिल मिश्रा समर्थन करते नजर आए, वहीं दूसरी तरफ जामियानगर से विधायक अमानतुल्ला खान ने विश्वास के खिलाफ मोर्चा खोेल दिया है. विधायक की मानें तो कुमार विश्वास पार्टी में फूट डालने की साजिश में जुटे हैं.

अमानतुल्ला खान का विश्वास पर वार
अमानतुल्ला खान ने कहा, 'कुमार विश्वास जी आम आदमी पार्टी को हड़पना चाहते हैं और पार्टी को तोड़ना चाहते हैं, वो अपने घर पर विधायकों को बुलाकर कह रहे हैं कि मुझे पार्टी का संयोजक बनवाओ नहीं तो बीजेपी में चलो. बीजेपी हर एक को 30 करोड़ रुपये देने के लिए तैयार है'.

विश्वास पर पार्टी तोड़ने का गंभीर आरोप
जामिया से AAP विधायक ने कहा कि मुझे लगता है ये सब बीजेपी के इशारे पर हो रहा है और इस काम के लिए इन्होंने 4 विधायक छोड़े हुए हैं. ये चारों विधायक AAP के विधायकों को कुमार विश्वास के घर ले जाते हैं, इस बात की तस्दीक AAP के तमाम विधायकों ने की. यही नहीं, शनिवार को एक मंत्री के यहां इन चारों विधायकों के बीच बैठक भी हुई. अमानतुल्ला खान की मानें तो कुमार विश्वास की तरह से योगेंद्र यादव भी पार्टी के खिलाफ साजिश रचते थे.

विश्वास के बयान से कपिल मिश्रा सहमत
अमानतुल्ला के आरोप से पहले केजरीवाल के मंत्री कपिल मिश्रा कुमार विश्वास की तरफदारी करते दिखे. 'आज तक' से खास बातचीत में उन्होंने कहा कि पार्टी में आमूल-चूल परिवर्तन होगा, क्योंकि सभी विधायक, मंत्री, कार्यकर्ता ये चाहते हैं. जो बार-बार हार के लिए ज़िम्मेदार रहे हैं उन्हें घर में बैठना चाहिए'. मंत्री ने साफ शब्दों में कहा कि हार की सभी पहलुओं की समीक्षा होगी. साथ ही शुंगलू कमेटी की रिपोर्ट पर पार्टी में मंथन ज़रूर होना चाहिए.

कपिल मिश्रा की मानें तो कुमार विश्वास जो बोल रहे हैं और केजरीवाल जो ट्वीट कर रहे हैं दोनों नेता एक ही बात कह रहे हैं. कुमार विश्वास के इंटरव्यू के बाद कार्यकर्ताओं में जोश आया है, क्योंकि उन्होंने कार्यकर्ताओं की आवाज़ को मंच दिया है.

MCD हार पर विश्वास का मोर्चा
दरअसल 'आज तक' से बातचीत में कुमार विश्वास ने कहा था कि AAP कांग्रेस होती जा रही है. कपिल की मानें तो कुमार विश्वास ने ये बयान गुस्से में दिया है, क्योंकि AAP की विचारधारा एंटी बीजेपी और कांग्रेस है. कपिल मिश्रा ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक पर केजरीवाल ने सही सवाल उठाया था. नरेंद्र मोदी के खिलाफ देश मे हिम्मत करके सिर्फ आम आदमी पार्टी बोल सकती है, और हम आगे भी बोलते रहेंगे.

हार पर अब समीक्षा की बात
कपिल मिश्रा ने एक सवाल के जवाब में कहा कि कुमार विश्वास से पंजाब, दिल्ली में प्रचार नहीं कराया गया और हमारी हार हुई, इसकी भी समीक्षा होगी. मंत्री ने भरोसा दिया कि आम आदमी पार्टी में बड़ा बदलाव होना सुनिश्चत है. उन्होंने पार्टी में टूट की बात से साफ इनकार कर दिया.

विपक्ष पर हमला करते हुए कपिल मिश्रा ने कहा कि मनोज तिवारी को खुली चुनौती देता हूं कि वो पार्टी को तोड़ कर दिखाएं. यही नहीं, कपिल मिश्रा ने कहा कि बीजेपी के कई जीते हुए पार्षद और विधायक उनकी पार्टी के संपर्क में हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay