एडवांस्ड सर्च

AAP ने राजीव गांधी का भारत रत्न पुरस्कार वापस लेने की मांग की

आम आदमी पार्टी ने राजीव गांधी के एक पुराने बयान का विरोध किया है. बयान का वीडियो सामने आते ही पार्टी नेताओं की तीखी प्रतिक्रिया देखने मिली है. आम आदमी पार्टी ने बयान को सिक्खों के खिलाफ बताते हुए, सरकार से मांग की है कि राजीव गांधी को दी गई भारत रत्न की उपाधि वापस ली जाए.

Advertisement
aajtak.in
सबा नाज़/ पंकज जैन नई दिल्ली, 20 August 2016
AAP ने राजीव गांधी का भारत रत्न पुरस्कार वापस लेने की मांग की एचएस फुल्का

आम आदमी पार्टी ने राजीव गांधी के एक पुराने बयान का विरोध किया है. बयान का वीडियो सामने आते ही पार्टी नेताओं की तीखी प्रतिक्रिया देखने मिली है. आम आदमी पार्टी ने बयान को सिक्खों के खिलाफ बताते हुए, सरकार से मांग की है कि राजीव गांधी को दी गई भारत रत्न की उपाधि वापस ली जाए.

पंजाब से आम आदमी पार्टी की सीट पर चुनाव लड़ने जा रहे है एचएस फुल्का ने सरकार से ट्वीट पर अपील की और कांग्रेस नेताओं को निशाने पर लेते हुए लिखा कि ऐसा प्रधानमंत्री जो हजारों मासूम लोगों की हत्या को सही ठहरा रहा हो, उसका भारत रत्न वापस लिया जाना चाहिए.

राजीव गांधी का बेशर्मी भरा बयान
दूसरी तरफ आम आदमी पार्टी के नेता कुमार विश्वास ने बयान जारी करते हुए कहा है कि 'धर्म पर मर मिटने के लिए हमेशा तैयार, जीवंत और साहसी सिख कौम के 1984 के नृशंस नरसंहार पर उस समय की कांग्रेस सरकार की बेशर्म चुप्पी और उस वक्त का राजीव गांधी का बेशर्म बयान, कि 'एक बड़ा पेड़ गिरता है तो धरती हिलती ही है' बहुत बड़ी बेशर्मी थी.'

सिक्खों के जख्मों पर कांग्रेस ने छिड़का नमक
कुमार विश्वास ने कांग्रेस नेताओं को भी निशाने पर लेते हुए कहा कि 'सबसे बड़ी निर्लज्जता है आज कांग्रेस के नेताओं का उसी स्टेटमेंट को दोबारा प्रचारित किया जाना, यह वास्तव में बहुत निकृष्ट और घृणित है. अपने ही पूर्वजों द्वारा देश को दिए जख्मों पर मरहम लगाने की बजाए, उस पर नमक छिड़कने वाले संवेदनहीन, अमानवीय और अहंकारी कांग्रेस के लिए यह बयान ताबूत में आखिरी कील साबित होगी.' जाहिर है आम आदमी पार्टी पंजाब में सत्ता की जमीन तलाश रही है. ऐसे में पार्टी सिक्खों से जुड़े किसी भी मामले में, राजनीति करने का कोई मौका गंवाना नहीं चाहती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay