एडवांस्ड सर्च

दिल्ली में सुरक्षित वैश्विक बचपन के लिए विश्व सम्मेलन, कई देशों के न्यायाधीशों हुए शामिल

दिल्ली शहर में लखनऊ के सिटी मोंटेसरी स्कूल ने 17वें अंतरराष्ट्रीय न्यायाधीश सम्मेलन का आयोजन किया. सम्मेलन में 63 देशों के 200 से अधिक न्यायाधीशों ने विश्व के 2.5 अरब बच्चों के सुरक्षित भविष्य के लिए विश्व को एक करने की मांग की.

Advertisement
aajtak.in
मोनिका शर्मा/ मणिदीप शर्मा नई दिल्ली, 11 November 2016
दिल्ली में सुरक्षित वैश्विक बचपन के लिए विश्व सम्मेलन, कई देशों के न्यायाधीशों हुए शामिल सिटी मोंटेसरी स्कूल ने किया सम्मेलन का आयोजन

दिल्ली शहर में लखनऊ के सिटी मोंटेसरी स्कूल ने 17वें अंतरराष्ट्रीय न्यायाधीश सम्मेलन का आयोजन किया. सम्मेलन में 63 देशों के 200 से अधिक न्यायाधीशों ने विश्व के 2.5 अरब बच्चों के सुरक्षित भविष्य के लिए विश्व को एक करने की मांग की.

असुरक्षित है 2.5 बच्चों का भविष्य
सम्मेलन शुरू करने से पहले सभी देशों के न्यायाधीशों ने राजघाट पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की समाधि पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए. सम्मेलन को संबोधित करते हुए सिटी मोंटेसरी स्कूल के संस्थापक डॉक्टर जगदीश गांधी ने कहा कि आज पूरा विश्व आतंकवाद, परमाणु बम, हिंसा, बीमारी, भुखमरी, पर्यावरण आपदा, तृतीय विश्व युद्ध की आशंका जैसी अनेक समस्याओं से घिरा हुआ है, जिसके कारण विश्व भर के 2.5 अरब बच्चों के साथ ही आगे जन्म लेने वाली पीढ़ियों का भविष्य असुरक्षित है.

बच्चों को मिले उज्जवल भविष्य
इस सम्मेलन में गुयाना के प्रधानमंत्री मोसेस नागमुटु, क्रोशिया के पूर्व राष्ट्रपति स्टेपान मेसिक, मॉरीशस के पूर्व राष्ट्रपति कौसम, सूडान के पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल रहमान के साथ ही विश्व की कई हस्तियां शामिल हुई। सम्मेलन के संयोजक डॉक्टर जगदीश गांधी ने कहा कि पूरे विश्व से जुड़ी प्रमुख हस्तियों ने एकमत राय इस मुद्दे पर व्यक्त की है कि विश्व के 2.5 अरब बच्चों के साथ ही आगे आने वाली पीढ़ियों को एक सुंदर एवं सुरक्षित भविष्य चाहिए. बच्चे स्वस्थ वातावरण में सांस लेना चाहते हैं, उन्हें विरासत में बमों का जखीरा नहीं चाहिए इसलिए आज हम लोगों को मिलकर ऐसी कानून व्यवस्था बनाने चाहिए जिससे विश्व में शान्ति और एकता स्थापित हो सके.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay