एडवांस्ड सर्च

छत्तीसगढ़ कांग्रेस अध्यक्ष को नक्सल नेता गणपति का फोन, पुलिस जांच में जुटी

लगभग दो मिनट की इस बातचीत के दौरान गणपति ने बघेल से राजनीतिक समीकरणों पर चर्चा करते हुए यह भी कहा कि नक्सली कांग्रेस का समर्थन करना चाहते है. और वे 37 विधानसभा सीटों के परिणाम बदलने में सक्षम हैं.

Advertisement
aajtak.in
विवेक पाठक / सुनील नामदेव रायपुर, 18 July 2018
छत्तीसगढ़ कांग्रेस अध्यक्ष को नक्सल नेता गणपति का फोन, पुलिस जांच में जुटी छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी दफ्तर

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष भूपेश बघेल को कथित तौर पर नक्सली नेता गणपति ने फोन किया है. जिसमें आगामी विधानसभा चुनावों में समर्थन की बात की गई है. मामले की गंभीरता को देखते हुए भूपेश बघेल ने इस बात की जानकारी दुर्ग जिले के आला पुलिस अफसरों को देते हुए साजिश का अंदेशा जाहिर किया है.

बता दें कि मंगलवार देर शाम छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष भूपेश बघेल को एक शख्स ने फोन कर अपना परिचय नक्सली नेता गणपति के रूप में दिया.

लगभग दो मिनट की इस बातचीत के दौरान गणपति ने बघेल से राजनीतिक समीकरणों पर चर्चा करते हुए यह भी कहा कि नक्सली कांग्रेस का समर्थन करना चाहते है. और वे 37 विधानसभा सीटों के परिणाम बदलने में सक्षम हैं. जिसके बाद बघेल ने इस कथित नक्सली नेता के साथ हुई बातचीत का पूरा ब्यौरा पुलिस को दिया है. साथ ही कांग्रेस की तरफ से किसी बड़ी साजिश का अंदेशा भी जाहिर किया गया है.

वहीं इस मामले में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि भूपेश बघेल की फोन पर जो भी बात हुई है, वो पुलिस की जानकारी में आई है. पुलिस गंभीरता से इस मामले की जाँच कर रही है. छत्तीसगढ़ में चुनाव के ठीक पहले कथित नक्सली नेता गणपति का यह फोन काफी मायने रखता है.

बता दें कि 25 मई 2013 को बस्तर की झीरम घाटी में नक्सलियों ने कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा पर हमला कर उसके सभी प्रमुख नेताओं को मौत के घाट उतार दिया था. इस घटना में 32 कांग्रेसी नेता और कार्यकर्ताओं की मौत हुई थी. इस दौरान नक्सली नेता गणपति ने ही घटना की जिम्मेदारी लेते हुए एक पत्र सार्वजनिक किया था. जिसमें कांग्रेसी नेता महेंद्र कर्मा से बदला लिए जाने की बात कही गई थी.

अब एक बार फिर गणपति सुर्खियों में है. लेकिन इस बार वो कांग्रेस को समर्थन देने की बात कर रहा है. वहीं कांग्रेस को इस फोन से किसी साजिश की बू आ रही है. उसे अंदेशा है कि पार्टी के नेताओं को उलझाने के लिए यह किसी की कोई चाल हो सकती है. फिलहाल पुलिस मामले की जाँच कर रही है. दुर्ग रेंज के आईजी जी.पी. सिंह के मुताबिक इस मामले में तहकीकात जारी है.  

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay