एडवांस्ड सर्च

छत्तीसगढ़ चुनाव: शाम 5 बजे तक 65 फीसदी वोटिंग

छत्तीसगढ़ में लगातार चौथी बार अपनी सरकार बनाने के लिए भाजपा ने पूरा दम लगा दिया है, वहीं कांग्रेस को उम्मीद है कि 15 साल बाद जनता परिवर्तन के मूड में है लेकिन अजीत जोगी बसपा से समझौता कर दोनों का खेल खराब कर सकते हैं.

Advertisement
aajtak.in
मोहित ग्रोवर/ आशुतोष मिश्रा/ सुनील नामदेव रायपुर/नई दिल्ली, 20 November 2018
छत्तीसगढ़ चुनाव: शाम 5 बजे तक 65 फीसदी वोटिंग Chhattisgarh Assembly Election 2018

छत्तीसगढ़ में हो रहे विधानसभा चुनाव (Chhattisgarh Assembly Election 2018)  के दूसरे चरण के लिए मंगलवार को वोट डाले जा रहे हैं. इस चरण में अजीत जोगी, युद्धवीर सिंह जूदेव, रेणु जोगी, विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल, नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव, 9 मंत्रियों समेत 1079 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होना है.

मंगलवार को दूसरे चरण के लिए 19 जिलों की 72 विधानसभा सीटों पर चुनाव की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. सभी सीटों पर मतदान का समय सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक है.

छत्तीसगढ़: दूसरे दौर में 1000 से ज्यादा उम्मीदवार, 23% करोड़पति

बड़े अपडेट्स:

05.30 PM: शाम पांच बजे तक 64.8 प्रतिशत वोटिंग हुई है.

03.12 PM: छत्तीसगढ़ में दोपहर 3 बजे तक 45.2 फीसदी वोटिंग हुई.

03.00 PM: पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने डाला वोट.

01.38 PM: मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कवर्धा में वोट डाला.

12.38 PM: दोपहर 12 बजे तक 23.71 फीसदी वोटिंग हुई

10.40 AM: सुबह 10 बजे तक 12.54 फीसदी वोटिंग हुई

10.16 AM: धमतरी में ईवीएम खराब, सिहावा विधानसभा क्षेत्र में भी कई पोलिंग बूथ पर ईवीएम खराब होने की खबर. कुछ जगह पर एक्सट्रा मशीनों से काम चलाना पड़ रहा है. हालांकि, कुछ ही समय बाद वोटिंग दोबारा शुरू भी हुई.

10.09 AM: प्रेमनगर विधानसभा के बूथ नंबर 90-91 पर ईवीएम खराब, आधे घंटे की वोटिंग के बाद खराब हुई ईवीएम

09.40 AM: बिलासपुर में सुबह 9 बजे तक 10 फीसदी वोटिंग हुई.

09.35 AM: कवर्धा में दोबारा में वोटिंग शुरू हुई, 15 मिनट के लिए थमी थी वोटिंग

09.32 AM: कवर्धा में ईवीएम खराब होने के कारण 4 मतदान केंद्रों पर वोटिंग रुकी.

08.39 AM: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों से अधिक से अधिक संख्या में वोट डालने की अपील की.

08.14 AM: पोलिंग बूथों पर लंबी लाइन, वोट डालने पहुंच रहे हैं लोग

08.00 AM: 72 सीटों पर वोटिंग शुरू, कई उम्मीदवारों की किस्मत दांव पर.

119 महिला उम्मीदवार

दूसरे चरण में 1,53,85,983 मतदाता 1079 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे. इसमें 119 महिला उम्मीदवार भी शामिल हैं. रायपुर नगर दक्षिण विधानसभा क्षेत्र में सबसे अधिक 46 उम्मीदवार और बिंद्रानवागढ़ में सबसे कम 6 उम्मीदवार हैं. अधिकारियों ने बताया कि सोमवार को ही मतदानकर्मियों को बूथों के लिए रवाना कर दिया गया.

नक्सल प्रभावित इलाकों में कड़े इंतजाम

राज्य में शांतिपूर्ण मतदान के लिए अर्धसैनिक बलों और पुलिस के लगभग एक लाख जवानों को तैनात किया गया है. राज्य के गरियाबंद, धमतरी, महासमुंद, कबीरधाम, जशपुर और बलरामपुर जिले के कुछ हिस्से नक्सल प्रभावित हैं. इन इलाकों में बड़ी संख्या में जवानों को तैनात किया गया है.

ये प्रमुख उम्मीदवार हैं मैदान में

इस चरण में 1079 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होना है उनमें ये लोग शामिल हैं. कसडोल सीट से विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल और रमन मंत्रिमंडल के 9 सदस्य. रायपुर दक्षिण सीट से बृजमोहन अग्रवाल, रायपुर पश्चिम से राजेश मूणत, भिलाई से प्रेम प्रकाश पांडेय, बैकुंठपुर से भैयालाल राजवाड़े, मुंगेली से पुन्नूलाल मोहिले, प्रतापपुर से रामसेवक पैकरा, बिलासपुर से अमर अग्रवाल, कुरूद से अजय चंद्राकर और नवागढ़ से दयालदास बघेल.

अंबिकापुर से विधानसभा में विपक्ष के नेता टीएस सिंहदेव, पाटन से प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल, सक्ति से कांग्रेस प्रत्याशी पूर्व केंद्रीय मंत्री चरणदास महंत, दुर्ग ग्रामीण से सांसद ताम्रध्वज साहू, मरवाही से पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी और कोटा से उनकी पत्नी रेणु जोगी के भाग्य का भी फैसला भी मतदाता करेंगे.

अनुसूचित जनजाति के लिए 17 सीटें रिजर्व

दूसरे चरण की 72 सीटों में से 17 सीट अनुसूचित जनजाति के लिए और 9 सीटें अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित हैं. वर्ष 2013 के विधानसभा चुनाव में भाजपा ने 72 सीटों में से 43 सीटों पर जीत हासिल की थी. वहीं कांग्रेस को 27 और बहुजन समाज पार्टी को एक-एक सीटें मिली हैं. एक सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार जीता था.

इस बार त्रिकोणीय मुकाबला

इससे पहले हुए चुनावों में भाजपा और कांग्रेस ही आमने सामने रहती थीं लेकिन इस बार के चुनाव में जोगी की पार्टी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे और बहुजन समाज पार्टी गठबंधन कर चुनाव लड़ने से कुछ सीटों पर मुकाबला त्रिकोणीय होने की संभावना है.

15 साल से सत्ता में है भाजपा

राज्य में भाजपा पिछले 15 वर्षों से सत्ता में है. इस बार भाजपा 65 से अधिक सीटों पर जीत हासिल कर चौथी बार सरकार बनाने का लक्ष्य लेकर चुनाव मैदान में है. वहीं लंबे समय से सत्ता से दूर कांग्रेस को उम्मीद है कि जनता इस बार बदलाव के लिए वोट देगी.

नेताओं ने कीं धुआंधार रैलियां

भाजपा की सत्ता बरकरार रखने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, कई केंद्रीय मंत्रियों, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, बसपा प्रमुख मायावती समेत नेताओं ने लगातार रैलियां की हैं. प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री मोदी और भाजपा अध्यक्ष शाह समेत अन्य भाजपा नेताओं ने गांधी परिवार पर निशाना साधा और कांग्रेस पर वादाखिलाफी करने का आरोप लगाया.

वहीं भाजपा नेताओं ने पिछले साढ़े चार वर्ष के केंद्र सरकार के कार्यकाल और छत्तीसगढ़ में पिछले 15 वर्ष के कार्यकाल को लेकर प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री रमन सिंह की तारीफ की.

कांग्रेस ने घोटालों पर घेरा  

इधर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और कांग्रेस के अन्य नेताओं ने केंद्र सरकार पर राफेल डील में उद्योगपति अनिल अंबानी को फायदा पहुंचाने और उद्योगपतियों का कर्ज माफ करने का आरोप लगाया. वहीं उन्होंने राज्य में चिटफंड घोटाला, नान घोटाला तथा पनामा पेपर मामले को लेकर मुख्यमंत्री रमन सिंह को घेरा.

नक्सल प्रभावित इलाकों में हुई थी 76 फीसदी वोटिंग

छत्तीसगढ़ में पहले चरण में राज्य के नक्सल प्रभावित बस्तर क्षेत्र के सात जिले और राजनांदगांव जिले की 18 सीटों के लिए इस महीने की 12 तारीख को मतदान हुआ था. इस दौरान इस क्षेत्र के 76 फीसदी से अधिक मतदाताओं ने मतदान में भाग लिया था. 11 दिसंबर को मतों की गिनती की जाएगी.

To get latest update about Chhattisgarh elections SMS CG to 52424 from your mobile. Standard  SMS Charges Applicable.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay