एडवांस्ड सर्च

रायपुर: राहुल गांधी का दौरा आज, नहीं मिली महामाया मंदिर जाने की इजाजत

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी रायपुर के एक दिवसीय दौरे पर पहुंच रहे हैं. राहुल इस दौरान किसान सम्मेलन के जरिए चुनावी बिगुल फूंकेगें. इसके बाद पार्टी नेताओं के साथ मुलाकात करेंगे.

Advertisement
aajtak.in
सुनील नामदेव रायपुर, 22 October 2018
रायपुर: राहुल गांधी का दौरा आज, नहीं मिली महामाया मंदिर जाने की इजाजत कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (फोटो क्रेडिट, congress)

कांग्रेस छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव की सियासी जंग फतह करने के लिए पूरी ताकत लगा रही है. इसी मद्देनजर पार्टी अध्यक्ष राहुल एक दिवसीय दौरे पर सोमवार को रायपुर पहुंचेंगे. वह साइंस कॉलेज में सभा को संबोधित करेंगे. इसके बाद शाम को सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों से चर्चा भी करेंगे. हालांकि वह महामाया मंदिर नहीं जा सकेंगे.

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के ऐलान के बाद राहुल गांधी का ये पहला दौरा है. कांग्रेस राज्य में 15 साल से सत्ता का वनवास का वनवास झेल रही है. हालांकि इस बार को कांग्रेस को अपनी वापसी की उम्मीद नजर आ रही है.

सोमवार को राहुल दोपहर दो बजे रायपुर एयरपोर्ट पहुंचेंगे. वहां से होटल बेबीलोन इंटरनेशनल पहुंचेगे जहां वो भोजन करने जाएंगे.

राहुल गांधी इसके बाद रिंग रोड से गोल चौक डीडीनगर होकर साइंस कॉलेज मैदान पहुंचेंगे, जहां किसान सम्मेलन के को संबोधित करेंगे. साइंस कॉलेज मैदान में 15 साल बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष की सभा हो रही है. इसके पहले 2003 के चुनाव के पहले तत्कालीन राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी की सभा हुई थी.

राहुल किसान सम्मेलन को संबोधित करने के बाद शाम को सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक कर चुनावी रणनीति पर चर्चा करेंगे. इसके बाद राहुल गांधी रायपुर से दिल्ली के एयरपोर्ट के लिए रवाना हो जाएंगे.

बता दें कि राहुल इस दौरे में एसपीजी की रिपोर्ट से बाद थोड़ा बदलाव किया गया है. अब वह महामाया मंदिर नहीं जा पाएंगे, जबकि पहले राहुल गांधी का महामाया मंदिर जाने और वहां दर्शन-पूजन का कार्यक्रम था. घनी आबादी और रास्ता संकरा होने के कारण एसपीजी ने उन्हें मंदिर जाने की इजाजत नहीं दी है.

हैहयवंशी राजाओं ने छत्तीसगढ़ में छत्तीस किले बनवाए और हर किले की शुरुआत में मां महामाया के मंदिर बनवाए. मां के इन छत्तीसगढ़ों में एक गढ़ है रायपुर का महामाया मंदिर, जहां महालक्ष्मी के रूप में दर्शन देती हैं मां महामाया और सम्लेश्वरी देवी. मां का दरबार सदियों से लोगों की आस्था का केंद्र बना हुआ है.

तांत्रिक पद्धति से बने इस मंदिर में देश ही नहीं विदेशों से भी भक्त आते हैं. माता का यह मंदिर बेहद चमत्कारिक माना जाता है, यहां सच्चे मन से मांगी गई मन्नत तत्काल पूरी होती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay