एडवांस्ड सर्च

सिद्धू का PM पर हमला, बोले- क्या उन्हें इस बात की ईर्ष्या है कि इमरान ने नहीं बुलाया

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथग्रहण समारोह में शामिल होने को लेकर विरोध झेल रहे सिद्धू के हवाले से कहा, 'क्या पीएम को इस बात की ईर्ष्या है कि उनको इमरान खान के शपथग्रहण समारोह में नहीं बुलाया गया?'

Advertisement
aajtak.in
राम कृष्ण/ सुनील नामदेव रायपुर, 17 November 2018
सिद्धू का PM पर हमला, बोले- क्या उन्हें इस बात की ईर्ष्या है कि इमरान ने नहीं बुलाया पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू (फोटो- ANI)

पंजाब सरकार में कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बड़ा हमला बोला है. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथग्रहण समारोह में शामिल होने को लेकर आलोचना झेल चुके सिद्धू ने कहा कि जिनका नाम गोधराकांड में आ चुका है, उनके सामने वो अपनी देशभक्ति साबित नहीं करेंगे. आपको बता दें कि सिद्धू ने छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के पक्ष में चुनाव प्रचार के दौरान पीएम मोदी पर यह तीखा जुबानी हमला बोला है.

समाचार एजेंसी एएनआई ने सिद्धू के हवाले से कहा, 'क्या पीएम को इस बात की ईर्ष्या है कि उनको इमरान खान के शपथग्रहण समारोह में नहीं बुलाया गया. क्या उनको इस बात की ईर्ष्या है कि वो बिना बुलाए नवाज शरीफ के जन्मदिन पर पाकिस्तान गए. मैं उन लोगों के सामने अपनी देशभक्ति साबित नहीं करूंगा, जिनका नाम गोधराकांड में आ चुका है.' 

छत्तीसगढ़ में दूसरे चरण के प्रचार के लिए तीन दिवसीय प्रवास पर पहुंचे सिद्धू ने कांग्रेस के पक्ष में धुआंधार चुनावी प्रचार की शुरुआत मोदी सरकार और बीजेपी को घेरने से की. वो गांवों से लेकर शहरों तक बीजेपी पर तीखा प्रहार करते नजर आए. कहीं नोटबंदी, कहीं GST तो कहीं भ्रष्टाचार और कालेधन के मुद्दे पर अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जमकर आड़े हाथों लिया. इस दौरान सिद्धू ने छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के पक्ष में माहौल बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी.

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में मीडिया से रू-ब-रू होते हुए नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि अब देश की जनता बदलाव चाहती है. नरेंद्र मोदी की साल 2014 की लहर अब कहर बन गई है. नवजोत सिद्धू ने कहा, 'प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि विदेश से कालाधन वापस लेकर आऊंगा और गरीबों में बांट दूंगा, लेकिन अब यह बात गरीबों के लिए जहर बन गई है.'

पीएम मोदी के तमाम वादों को सिद्दू ने याद दिलाते हुए कहा कि पीएम ने आतंकवाद रोकने की बात कही जो कि अब और बढ़ गया है. सिद्धू ने कहा, 'नोटबंदी फेल हुई, जो किसान अपने खेत में लेबर लगाता है क्या वो चोर है. इस देश में 36 करोड़ लोग काम करते हैं, क्या वो चोर हैं.' सिद्धू ने आगे कहा कि भारत में अस्सी फीसदी बिजनेस कैश में चलता है लेकिन पीएम ने हजार का नोट बंद किया और दो हजार का चालू किया. यह कैसी नोटबंदी है.

सिद्दू ने मोदी पर आक्रामक रुख अपनाते हुए कहा कि 'सरकार ने ब्लैकमनी को पर्पल मनी कर दिया है. गरीब लाइनों में खड़ा होकर मारा गया लेकिन इनके मंत्री 5 हज़ार करोड़ की शादी कर रहे हैं. अमीर का चिराग जलने दो, गरीब की झोपड़ी जलने दो ऐसा काम मोदी ने किया है. उन्होंने कहा कि स्विस बैंक में काला धन मोदी सरकार के आने के बाद बढ़ गया है.'

कांग्रेस की तारीफ करते हुए सिद्दू ने कहा कि राहुल गांधी का मुझे छत्तीसगढ़ भेजना सम्मान की बात है. उन्होंने कहा, 'कांग्रेस की सरकार थी तब यूपीए ने डीजल को कंट्रोल में रखा था लेकिन मोदी सरकार ने पेट्रोल डीजल का रेट बढ़ा दिया है. मोदी सरकार ने ऐसा कर एस्सार और अंबानी के पेट्रोल पंपों को फायदे में ला दिया. पहले मनमोहन सिंह में 2 लाख करोड़ के एनपीए थे और मोदी में 12 लाख करोड़ के हो गए.'

कांग्रेस नेता और पंजाब के मंत्री सिद्धू ने कहा कि दिल्ली में पंद्रह साल पुराने प्रदुषण फैलाने वाले वाहनों को चलन से बाहर कर दिया गया है. इसी तर्ज पर छत्तीसगढ़ की सरकार डीजल वाली सरकार है जो कि धुआं मार रही है. इसे अब हटाने का वक्त आ गया है, उसे हटा दीजिए. उन्होंने कहा कि इस सरकार के जाने से बुरे दिन जाएंगे और अच्छे दिन आएंगे.

छत्तीसगढ़ सरकार पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि रमन सिंह ने आदिवासियों से उनकी संस्कृति छीन ली है. कांग्रेस के परिवारवाद पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि सोनिया गांधी प्रधानमंत्री नहीं बनी थीं, उन्होंने सरदार मनमोहन सिंह को प्रधानमंत्री बनाया. सिद्धू ने कहा कि कांग्रेस ने गैर-गांधी परिवार के प्रधानमंत्री भी दिए हैं. सिद्धू ने शुरू से लेकर आखिरी तक पीएम पर हमला किया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay