एडवांस्ड सर्च

तेजस्वी की मांग, पीएम मोदी की हत्या की साजिश रचने वालों की हो पहचान

तेजस्वी ने कहा है कि प्रधानमंत्री की हत्या की साजिश रचने के पीछे जो लोग हैं उनकी जांच करके उन्हें पकड़ा जाना चाहिए. तेजस्वी ने कहा कि ऐसी धमकी प्रधानमंत्री को मिले, मुख्यमंत्री को मिले या फिर आम आदमी को, सरकार को ऐसी धमकियों को गंभीरता से लेना चाहिए और कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए.

Advertisement
aajtak.in
रोहित कुमार सिंह / राहुल विश्वकर्मा पटना, 09 June 2018
तेजस्वी की मांग, पीएम मोदी की हत्या की साजिश रचने वालों की हो पहचान तेजस्वी यादव

माओवादियों द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश का खुलासा होने को लेकर आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने कहा है कि सुरक्षा एजेंसियों को विश्लेषण करना चाहिए कि प्रधानमंत्री की हत्या की साजिश रचने के पीछे किसका हाथ है ?

तेजस्वी ने कहा है कि प्रधानमंत्री की हत्या की साजिश रचने के पीछे जो लोग हैं उनकी जांच करके उन्हें पकड़ा जाना चाहिए. तेजस्वी ने कहा कि ऐसी धमकी प्रधानमंत्री को मिले, मुख्यमंत्री को मिले या फिर आम आदमी को, सरकार को ऐसी धमकियों को गंभीरता से लेना चाहिए और कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए.

वही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से गुरुवार को हुई उनकी मुलाकात को लेकर तेजस्वी ने कहा कि दोनों नेताओं के बीच हुई बिहार की राजनीति को लेकर और लोकसभा चुनाव में साझा रणनीति क्या हो इसको लेकर चर्चा हुई.

केंद्रीय मंत्री और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा की NDA गठबंधन में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से चल रहे कोल्ड वॉर को लेकर तेजस्वी ने कहा कि उपेंद्र कुशवाहा की जो विचारधारा है, उनकी BJP या NDA में कोई जगह नहीं है.

महागठबंधन में शामिल होने का ऑफर देते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि उपेंद्र कुशवाहा महागठबंधन में आना चाहें और आरजेडी के साथ साथ जुड़ना चाहे तो इसको लेकर उनके साथ बातचीत की जा सकती है.

मुख्यमंत्री पर तंज कसते हुए तेजस्वी ने कहा कि नीतीश कुमार के एनडीए में आने से गठबंधन के साथियों के बीच सीटों के तालमेल को लेकर उठापटक होनी ही थी. नीतीश पर हमला करते हुए तेजस्वी ने कहा कि भाजपा को आगामी लोकसभा चुनाव में जदयू को एक भी सीट लड़ने के लिए नहीं देना चाहिए.

तेजस्वी ने दावा किया कि इस बार नीतीश कुमार अपने गृह जिला नालंदा में भी चुनाव हारेंगे.

आरजेडी नेता ने कहा कि महागठबंधन में सीटों के तालमेल को लेकर कोई विवाद नहीं है. तेजस्वी ने कहा उपेंद्र कुशवाहा महागठबंधन में आएंगे कि नहीं, इसके लिए पहले उन्हें अपना मन बनाना पड़ेगा और उन लोगों से बात करनी होगी.

तेजस्वी ने कहा एक बात बिल्कुल स्पष्ट है कि नीतीश कुमार भाजपा से नफरत करते हैं और उसी तरीके से भाजपा भी नीतीश कुमार से नफरत करती है और अगर नीतीश कुमार अगर एनडीए में बने रहेंगे तो महागठबंधन को काफी फायदा होगा.

तेजस्वी ने कहा नीतीश कुमार सीनियर नेता हो सकते हैं, मगर जनसमर्थन और वोट बैंक के हिसाब से देखें तो उपेंद्र कुशवाहा नीतीश कुमार से बड़े नेता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay