एडवांस्ड सर्च

कैप्टन कहने पर तेजस्वी का निशाना, बोले- सुशील मोदी के पास डिसीजन मेकिंग पॉवर नहीं

राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव ने बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी की निर्णय लेने की क्षमता पर सवाल उठाए हैं. तेजस्वी यादव ने कहा है कि सुशील मोदी के पास निर्णय लेने की क्षमता नहीं है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 11 September 2019
कैप्टन कहने पर तेजस्वी का निशाना, बोले- सुशील मोदी के पास डिसीजन मेकिंग पॉवर नहीं राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव (फाइल फोटो- फेसबुक)

  • tej_091119114719.jpgतेजस्वी यादव का ट्वीट

    तेजस्वी यादव ने उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी पर साधा निशाना
  • सुशील मोदी के पास डिसीजन मेकिंग पॉवर नहीं
  • सीएम नीतीश कुमार ने पीएम मोदी के दम पर मांगा वोट
राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू यादव के बेटे तेजस्वी यादव ने बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी पर निशाना साधा है. तेजस्वी यादव ने कहा है कि सुशील मोदी के पास डिसीजन मेकिंग पॉवर नहीं है. तेजस्वी ने कहा है कि अगर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कैप्टन हैं तो उन्हें अगला चुनाव अपने बूते लड़ने पर सब समझ में आ जाएगा.

तेजस्वी ने कहा है कि सीएम नीतीश ने अपने काम पर वोट नहीं मांगा बल्कि पीएम नरेंद्र मोदी के नाम पर वोट मांगा है. एक अर्से बाद प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने विपक्ष की भूमिका में आते हुए नीतीश कुमार और उनकी सरकार पर हमला बोला है.

इससे पहले 9 सितंबर को किए गए एक ट्वीट में तेजस्वी यादव ने कहा नीतीश कुमार से सवाल किया था कि क्या मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं की बात खारिज करने की क्षमता रखते हैं?

tej_091119114719.jpgतेजस्वी यादव का ट्वीट

तेजस्वी ने ट्वीट किया कि क्या यह सच नहीं है कि आदरणीय नीतीश जी ने मोदी जी के नाम पर वोट मांगकर अपना घोषणा पत्र जारी किए बिना ही बीजेपी के घोषणा पत्र पर 16 सांसद बना लिए? क्या यह यथार्थ नहीं है कि हर बिल पर वे बीजेपी का समर्थन कर रहे हैं? फिर वे बीजेपी से अलग कैसे हैं.

लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद यह तीसरा मौका है जब तेजस्वी यादव ने इस तरह का सीधा हमला बोला हो. इससे पहले तेजस्वी यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके नीतीश कुमार के सबसे निकट सहयोगी राज्यसभा सांसद आरसीपी सिंह पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था. तेजस्वी यादव ने सवाल किया था कि भ्रष्ट्राचार पर कार्रवाई केवल लालू परिवार पर ही क्यों.

दरअसल यह मामला अनंत सिंह से जुड़ा हुआ था. अनंत सिंह के दिल्ली के साकेत कोर्ट में आत्मसमर्पण करने के बाद उन्हें ट्रांजिट रिमांड पर लेने गई बाढ़ की एएसपी लिपी सिंह जिस गाड़ी से कोर्ट पहुंची उस पर राज्यसभा सांसद का स्टिकर लगा हुआ था. लिपी सिंह आरसीपी सिंह की बेटी हैं जो जेडीयू के राज्यसभा सांसद हैं. गाड़ी के बारे में जब पता किया गया तो पता चला कि ये गाड़ी जेडीयू के एमएलसी रणवीर नंदन के नाम हैं.

तेजस्वी यादव ने सीधा आरोप लगाया कि एमएलसी ने आरसीपी सिंह को टैक्स के रूप में गाड़ी देकर पद लिया है. मुख्यमंत्री को इस मामले में जवाब देना चाहिए कि क्या कार्रवाई होगी. तेजस्वी यादव ने सुशील मोदी से कहा कि वो इस मामले पर कब प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे. नीतीश कुमार दूसरे भ्रष्टाचारियों पर कब कार्रवाई करेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay