एडवांस्ड सर्च

शराब, खनन माफिया के जरिए RJD बिगाड़ रही है बिहार की कानून व्यवस्था: सुशील मोदी

सुशील मोदी ने आरोप लगाया है कि राज्य में बालू, शराब और खनन माफिया के लोग आरजेडी के संरक्षण में फल फूल रहे थे लेकिन आरजेडी के सत्ता से बेदखल होने के बाद पार्टी इन्हीं माफिया के लोगों को उकसाकर राज्य की कानून व्यवस्था को बिगाड़ रही है.

Advertisement
aajtak.in
रोहित कुमार सिंह पटना, 04 February 2018
शराब, खनन माफिया के जरिए RJD बिगाड़ रही है बिहार की कानून व्यवस्था: सुशील मोदी सुशील मोदी (फाइल फोटो)

बिहार में पिछले कुछ दिनों से बढ़ती अपराधिक घटनाएं और लचर कानून-व्यवस्था के लिए बिहार सरकार ने आरजेडी को जिम्मेदार ठहराया है. उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने आरजेडी पर आरोप लगाया है और कहा है कि सत्ता से बेदखल होने के बाद पार्टी बालू, शराब और खनन माफिया के जरिए राज्य में कानून व्यवस्था बिगाड़ने में लगी हुई है.

सुशील मोदी ने आरोप लगाया है कि राज्य में बालू, शराब और खनन माफिया के लोग आरजेडी के संरक्षण में फल फूल रहे थे लेकिन आरजेडी के सत्ता से बेदखल होने के बाद पार्टी इन्हीं माफिया लोगों को उकसाकर राज्य की कानून व्यवस्था को बिगाड़ रही है. सुशील मोदी का यह बयान तब आया है जब 2 दिन पहले ही बखरी से आरजेडी विधायक उपेंद्र पासवान पर अपराधियों ने जानलेवा हमला किया जिसमें वह बाल बाल बच गए.

इसी हमले को लेकर आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने सरकार के ऊपर हमला बोला था और कहा था कि राज्य में कानून व्यवस्था बद से बदतर हो चुकी है. तेजस्वी ने यह भी आरोप लगाया था कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आरजेडी के विधायकों को मरवाने की कोशिश कर रहे हैं. उपमुख्यमंत्री ने कहा कि जिस पार्टी ने अपने 15 साल के शासन काल के दौरान अपराधियों का दुस्साहस पूरे बिहार में बढ़ा दिया था, वही आज हर घटना पर अपनी छाती पीट रही है.

वहीं दूसरी तरफ जेडीयू ने भी तेजस्वी यादव पर हमला बोला है और कहा है कि जिस पार्टी की पहचान अपराध और अपराधियों से ही होती रही हो वह अगर अपराध पर कुछ बोलता है तो मजाक जैसा लगता है. पार्टी प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा कि लालू यादव के शासनकाल के दौरान अपहरण उद्योग का रूप धारण कर चुका था और हत्या आम सी बात हो गई थी. पार्टी ने कहा कि लालू प्रसाद पोषक थे और उनके शासनकाल के अपराध पर तो कई फिल्में भी बन चुकी हैं.

संजय सिंह ने कहा कि जिस वक्त लालू राबड़ी का शासन था उस दौरान तो थानों की कीमत लगा करती थी और कोई भी अधिकारी बिना लालू राबड़ी को चढ़ावा दिए पोस्टिंग नहीं पा सकता था. जेडीयू ने कहा कि तेजस्वी यादव की पार्टी अब तक नहीं सुधरी है और सत्ता से बेदखल होने के बावजूद ना तो लालू ने या फिर उनके पुत्रों ने कोई सबक लिया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay