एडवांस्ड सर्च

बिहार: पुलवामा हमले में शहीद हुए परिवारों को मिलेगी सरकारी नौकरी

पुलवामा और हंदवारा की आतंकी घटना के बाद शहीद के परिवार वाले नीतीश सरकार से सरकारी नौकरी की मांग कर रहे थे और उसी मांग को आज सरकार की ओर से मंजूरी मिल गई ह.

Advertisement
रोहित कुमार सिंह [Edited By: अभिषेक शुक्ल]पटना, 11 June 2019
बिहार: पुलवामा हमले में शहीद हुए परिवारों को मिलेगी सरकारी नौकरी फाइल फोटो- नीतीश कुमार

पुलवामा हमले में शहीद हुए केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स(CRPF) के जवानों को बिहार सरकार ने सरकारी नौकरी देने का फैसला किया है. नीतीश कुमार के नेतृत्व में मंगलवार को कैबिनेट की बैठक हुई. इस बैठक में उस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई, जिसमें पुलवामा आतंकी हमले में बिहार के 2 सीआरपीएफ जवानों के परिवार वालों को सरकारी नौकरी देने का प्रस्ताव शामिल किया गया था.

14 फरवरी 2019 को हुए पुलवामा आतंकी हमले में भागलपुर निवासी जवान रतन कुमार ठाकुर और पटना के मसौढ़ी निवासी संजय कुमार सिन्हा की मौत हो गई थी. पुलवामा आतंकी हमले में कुल 40 सीआरपीएफ के जवान शहीद हुए थे.

उसी दौरान जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा में भी एक अन्य आतंकी हमला हुआ था, जिसमें सीआरपीएफ के अफसर समेत पांच जवान शहीद हो गए थे. इस घटना में भी एक शहीद जवान पिंटू सिंह बेगूसराय के निवासी थे. बिहार सरकार ने फैसला लिया है कि इनके परिवार वालों को भी सरकारी नौकरी दी जाएगी.

बता दें कि पुलवामा और हंदवारा की आतंकी घटना के बाद शहीद के परिवार वाले नीतीश सरकार से सरकारी नौकरी की मांग कर रहे थे और उसी मांग को आज सरकार की ओर से मंजूरी मिल गई है, जिसके बाद शहीद के परिवार के एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी दी जाएगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay