एडवांस्ड सर्च

सरकार बनने के बाद करीब आए लालू प्रसाद और राहुल गांधी, नीतीश के घर चाय पार्टी

शपथ ग्रहण के बाद सारे मेहमान और महागठबंधन के नेता नीतीश कुमार के आवास पर चाय पार्टी में जुटे. इस दौरान भी कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी मौजूद रहे.

Advertisement
aajtak.in
ब्रजेश मिश्र पटना, 21 November 2015
सरकार बनने के बाद करीब आए लालू प्रसाद और राहुल गांधी, नीतीश के घर चाय पार्टी

बिहार चुनाव में प्रचार के दौरान कभी भी मंच साझा न करने वाले आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी शुक्रवार को महागठबंधन सरकार के शपथ ग्रहण समारोह के दौरान करीब आ गए. शपथ ग्रहण के दौरान लालू और राहुल जब मिले तो दोनों ने मंच पर हाथ मिलाया और बातचीत भी की.

शपथ ग्रहण के बाद सारे मेहमान और महागठबंधन के नेता नीतीश कुमार के आवास पर चाय पार्टी में जुटे. इस दौरान भी कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी मौजूद रहे. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को लालू प्रसाद यादव अपने साथ लेकर चाय पार्टी में पहुंचे. उनके पीछे लालू का परिवार भी पार्टी में पहुंचा.

नीतीश की चाय पार्टी में ये था मेन्यू
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आवास पर आयोजित चाय पार्टी में मेन्यू भी शानदार था. बेबी कॉर्न, कॉर्न फ्लेक्स, मूंग दाल पकौड़ी, मशरूम, वेजलर कबाब मुर्ग रेशमी कबाब, मटन कबाब, फ्राइड फिश औ र ब्राउन ब्रेड सैंडविच मेहमानों के लिए रखा गया. चाय पार्टी में महागठबंधन के सभी बड़े नेता भी मौजूद रहे.

लालू से गले मिले केजरीवाल, सोशल मीडिया में चुटकी
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी शपथ ग्रहण समारोह के बाद चाय पार्टी में शामिल हुए. कार्यक्रम के दौरान केजरीवाल और लालू प्रसाद गले भी मिले. केजरीवाल और लालू की यह तस्वीर सोशल मीडिया में वायरल भी हुई और लोगों ने केजरीवाल पर जमकर चुटकी भी ली. सोशल मीडिया पर ज्यादातर लोगों का कहना है कि ईमानदार और भ्रष्टाचार मुक्त राजनीति की वकालत करने वाले केजरीवाल लालू प्रसाद के साथ गले मिलकर यह जता रहे हैं कि वह बदलाव की राजनीति का अपना नारा भूल चुके हैं. एलजेपी सांसद चिराग पासवान ने कहा कि लालू जी से हाथ मिलाकर केजरीवाल ने अपनी विचारधारा की असली झलक दिखाई है.

बोले राहुल- बिहार में हर धर्म और जाति की सरकार
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने शपथ ग्रहण समारोह के बाद सदाकत आश्रम जाकर कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि बिहार के लिए यह संदेश है कि राज्य में हर धर्म और हर जाति की सरकार बनी है. ये सरकार हर धर्म और जाति के लोगों को साथ लेकर चलेगी. उन्होने यह भी कहा कि बिहार की जीत का श्रेय अकेले उनको मत दिया जाए, यह सबके सहयोग की जीत है.

फिसल गई लालू के बड़े बेटे की जुबान
बता दें कि इसके गांधी मैदान में आयोजित कार्यक्रम में नीतीश कुमार ने लगातार तीसरी बार बिहार के सीएम पद की शपथ ली. वह पांचवीं बार मुख्यमंत्री बने. उनके ठीक बाद लालू प्रसाद के छोटे बेटे तेजस्वी यादव ने शपथ ली. तेजस्वी सरकार में भी नंबर-2 होंगे. बेटे को शपथ लेते देख लालू भावुक हो गए. कहा जा रहा है कि अब तेजस्वी को लालू की राजनीतिक विरासत संभालनी है. तीसरे नंबर पर तेजप्रताप यादव ने शपथ ली, लेकिन उनकी जुबान फिसल गई और वह शपथ के दौरान 'अपेक्षित' को 'उपेक्षित' बोल गए. इस वजह से उन्हें दोबारा शपथ दिलाई गई.शाम होते-होते यह साफ हो गया कि लालू के छोटे बेटे तेजस्वी ही डिप्टी सीएम होंगे. साथ ही उन्हें पीडब्ल्यूडी मंत्रालय का कार्यभार भी सौंपा गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay