एडवांस्ड सर्च

बिहार: पत्रकार राजदेव मर्डर केस में लड्डन मियां को 14 दिन की न्यायिक हिरासत, सुपारी देने का है आरोप

लड्डन मियां की गिरफ्तारी से राजदेव मर्डर केस में शहाबुद्दीन के कनेक्शन को लेकर बने सस्पेंस से भी पर्दा उठेगा.

Advertisement
aajtak.in
ब्रजेश मिश्र/ सुजीत झा पटना, 02 June 2016
बिहार: पत्रकार राजदेव मर्डर केस में लड्डन मियां को 14 दिन की न्यायिक हिरासत, सुपारी देने का है आरोप

बिहार के सीवान में पत्रकार राजदेव रंजन की हत्या के मामले में फरार चल रहे पूर्व आरजेडी सांसद शहाबुद्दीन के करीबी लड्डन मियां ने गुरुवार सुबह कोर्ट में सरेंडर कर दिया. कोर्ट ने लड्डन मियां को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा है. राजदेव की हत्या के बाद से ही पुलिस को उसकी तलाश थी.

पुलिस ने इस मामले में 25 मई को पांच शूटरों को गिरफ्तार किया था. जिन्होंने कबूल किया था कि वे हत्या में शामिल थे. इसमें मुख्य अभियुक्त रोहित कुमार है, जिसने हत्या की सुपारी ली थी.

सारे आरोपियों से जुड़ रहे हैं लड्डन मियां के तार
सीवान के एसपी सौरभ शाह ने बताया कि इस मामले में अब तक गिरफ्तार सारे आरोपियों के तार लड्डन मियां से जुड़ रहे हैं. पूछताछ में लड्डन मियां से कई बड़े राज पता चल सकते हैं. पुलिस ने कोर्ट से लड्डन मियां को रिमांड में देने की अपील की थी, लेकिन उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया.

हत्या के कारणों से उठेगा पर्दा
माना जा रहा है कि लड्डन मियां की गिरफ्तारी से राजदेव मर्डर केस में शहाबुद्दीन के कनेक्शन को लेकर बने सस्पेंस से भी पर्दा उठेगा. साथ ही हत्या के कारणों का भी पता चल सकेगा.

13 मई को हुई थी हत्या
बता दें कि सीवान में 13 मई की शाम 'हिन्दुस्तान' दैनिक अखबार के पत्रकार राजदेव रंजन की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. वारदात के वक्त वह कार्यालय से वापस लौट रहे थे. एक गोली राजदेव के सिर में जबकि दूसरी उनकी गर्दन में लगी. गोली मारने के बाद अपराधी फौरन वहां से फरार हो गए, जबकि गंभीर रूप से जख्मी हालत में पुलिस राजदेव को अस्पताल ले गई, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay