एडवांस्ड सर्च

Advertisement

डिप्रेशन में हैं लालू यादव, मनपसंद खाने से शुगर भी बढ़ी

रांची स्थित राजेंद्र आयुर्विज्ञान संस्थान के डॉक्टर उमेश प्रसाद ने बताया कि लालू यादव डिप्रेशन में हैं. गौरतलब है कि इन दिनों डॉ. उमेश प्रसाद की टीम की देखरेख में ही लालू का इलाज चल रहा है.
डिप्रेशन में हैं लालू यादव, मनपसंद खाने से शुगर भी बढ़ी लालू प्रसाद यादव (फाइल फोटो)
धरमबीर सिन्हा [Edited By: परमीता शर्मा]पटना, 11 September 2018

चारा घोटाला मामले में जेल की सजा काट रहे और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव अब डिप्रेशन के शिकार हो चुके हैं. रांची स्थित राजेंद्र आयुर्विज्ञान संस्थान के डॉक्टर उमेश प्रसाद ने बताया कि लालू यादव डिप्रेशन में हैं. गौरतलब है कि इन दिनों डॉ. उमेश प्रसाद की टीम की देखरेख में ही लालू का इलाज चल रहा है. मालूम हो कि लालू यादव को डिस्चार्ज करते समय एम्स ने भी उनके डिप्रेशन में होने की बात का उल्लेख किया था.

11 तरह की बीमारियों के घेरे में हैं लालू

जानकारी के मुताबिक लालू यादव को शुगर के साथ-साथ ग्यारह अन्य बीमारियों ने भी अपने चपेट में ले रखा है. जिनमें हाई ब्लड प्रेशर, हार्ट, किडनी की बीमारी भी शामिल हैं. इन बीमारियों की वजह से डॉक्टर ने उन्हें खानपान में सतर्कता बरतने की सलाह दी है. दरअसल बीते कुछ दिनों से लालू का शुगर लेवल लगातार बढ़ रहा था. ऐसा लालू के द्वारा डाइट चार्ट का पालन नहीं करने की वजह से हो रहा था.

बाहर का खाना खाने से बढ़ रहा लालू का शुगर

रिम्स के डॉक्टरों ने लालू प्रसाद के हाई शुगर की बीमारी पर काफी मुश्किल से आंशिक नियंत्रण किया था. हालांकि दवा और इंसुलिन की डोज उन्हें दी जा रही थी, लेकिन लालू का शुगर फिर से बढ़ गया है. बीते रविवार को उनका शुगर लेवल 185 दर्ज किया गया. इसकी वजह है लालू को दिया जा रहा बाहर का खाना.

दरअसल जब से लालू को पेइंग वॉर्ड में शिफ्ट किया गया है रिम्स से उन्हें मिलने वाला भोजन बंद कर दिया गया है. अब निजी व्यवस्था से लालू को खाना दिया जा रहा है, दो सेवादार उनका भोजन बनाते हैं. बताया जा रहा है कि जब से रिम्स से खाना बंद हुआ है लालू चावल ज्यादा खा रहे हैं. सेवादार उन्हें मनपसंद भोजन बनाकर दे रहे हैं. डाइट चार्ट को फॉलो नहीं किया जा रहा है जिसके चलते उनका शुगर लेवल बढ़ गया. हालांकि मंगलवार को लालू का ब्लड शुगर लेवल 131 दर्ज किया गया.

बता दें कि लालू यादव को पिछले बुधवार को रांची इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (रिम्स) के प्राइवेट वॉर्ड में ट्रांसफर कर दिया गया था जिसमें उन्हें एक हजार रुपये प्रतिदिन के हिसाब से कमरे का शुल्क देना पड़ रहा है. प्राइवेट वॉर्ड में लालू को स्थानांतरित करने के लिए जेल प्रशासन की अनुमति ली गई थी.

लालू ने रिम्स के सामान्य वॉर्ड में चिकित्सा के दौरान शिकायत की थी कि रिम्स परिसर में कुत्ते भोंकते हैं और मच्छर काटते रहते हैं जिसके चलते उन्हें नींद नहीं आती. इस परेशानी को लेकर लालू ने रिम्स प्रशासन को अर्जी दी थी कि उनका कमरा बदल दिया जाए और उन्हें पेइंग वॉर्ड में शिफ्ट किया जाए.

बता दें कि लालू प्रसाद यादव ने 30 अगस्त को रांची की विशेष सीबीआई अदालत में सरेंडर किया, जिसके बाद उन्हें आगे का इलाज करवाने के लिए रांची इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (रिम्स) में भर्ती कराया गया था.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay