एडवांस्ड सर्च

Opinion: आइए स्वागत करें फुटबॉल के इस महाकुंभ का

आज रात से फुटबॉल के महाकुंभ की शानदार शुरूआत हो रही है और एक महीने तक चलने वाले इस टूर्नामेंट में 32 टीमें भाग ले रही हैं. ये हैं भी दुनिया की चुनींदा टीमें. क्रिकेट के अलावा किसी और खेल में रुचि न रखने वाले भारतीयों को जानकर हैरानी होगी कि फुटबॉल दुनिया के लगभग हर देश में खेला जाता है और यही वज़ह है कि इसका स्तर बहुत ऊंचा है.

Advertisement
aajtak.in
मधुरेन्द्र सिन्हानई दिल्‍ली, 02 November 2014
Opinion: आइए स्वागत करें फुटबॉल के इस महाकुंभ का Football World Cup

आज रात से फुटबॉल के महाकुंभ की शानदार शुरूआत हो रही है और एक महीने तक चलने वाले इस टूर्नामेंट में 32 टीमें भाग ले रही हैं. ये हैं भी दुनिया की चुनींदा टीमें. क्रिकेट के अलावा किसी और खेल में रुचि न रखने वाले भारतीयों को जानकर हैरानी होगी कि फुटबॉल दुनिया के लगभग हर देश में खेला जाता है और यही वज़ह है कि इसका स्तर बहुत ऊंचा है.


दुनिया के कई देशों में यह खेल एक नशा है और वहां के लोग इसके दीवाने हैं. उनके लिए यह जिंदगी का हिस्सा है. अब उनके लिए बहुत बड़ा अवसर है. इस बार तो यह टूर्नामेंट फुटबॉल के देश ब्राजील में ही हो रहा है और यह वहां के लोगों के लिए एक बहुत बड़ा उत्सव है. ब्राजील के लोग इसे बेहद खुशी के साथ मना रहे हैं. फुटबॉल वहां के लोगों की आत्मा में समाया हुआ है और यह उन्हें अपार खुशी देता है. सांबा नृत्य के इस देश में जहां गीत-संगीत और नाच-गाना एक समृद्ध परंपरा का हिस्सा है, यह वर्ल्ड कप वर्षों तक याद रखा जाएगा.

दक्षिण अमेरिका के देश जिन्हें लैटिन अमेरिकी देश कहा जाता है, वहां 90 मिनट का यह खेल दर्शकों और प्रशंसकों को रोमांचित कर देता है. उस समय जो जोश और जुनून पैदा होता है उसकी कोई मिसाल नहीं मिलती है. एक-एक मैच एक साथ करोड़ों लोग टेलीविजन पर देखते हैं तो एक गजब का भाईचारा पैदा होता है. हम देखेंगे रोनाल्डो, मेस्सी, रूनी, नीमार, लुका, करीम, मार्सेलो, रामोस, जेराड, रॉबेन जैसे शानदार खिलाड़ियों के प्रशंसक सारी दुनिया में हैं और धर्म और क्षेत्र की दीवारें तोड़कर लोग उनके प्रशंसा के गीत गाएंगे. उनके हर कदम, हर शॉट और हर मूव पर सारी दुनिया में तालियां बजेंगी और लोग खुशियां बांटेंगे. यह होगी दुनिया को इस महाकुंभ के भागीदारों की अनमोल देन.

आज जबकि तमाम तकनीकी विकास के बाद भी दुनिया में इतना दुख और दर्द है, यह टूर्नामेंट लोगों को खुशियां बांटने का काम करेगा. थोड़े समय के लिए ही सही दुनिया में खुशियां दिखाई देंगी. आज क्षेत्र, धर्म और राजनीति के आधार पर दुनिया कई टुकड़ों में बंटी दिखती है लेकिन यह खेल सबको एक सूत्र में बांध देगा. इसमें इतनी ताकत तो है कि थोड़े समय तक सारी दुनिया को एक मंच पर ले आए. अगर अपने ग़म, अपने रंज भुलाकर लोग थोड़ी देर के लिए एक साथ हो जाएं तो इससे बढ़कर क्या हो सकता है. जोश और जुनून के इस जज़्बे को सलाम!

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay