एडवांस्ड सर्च

तेजस्वी ने बिहार की शिक्षा व्यवस्था पर उठाए सवाल तो JDU ने पूछा खुद कितना पढ़े?

तेजस्वी पर तंज करते हुए संजय सिंह ने उनसे सवाल पूछा कि उन्हें बताना चाहिए कि उनकी खुद की शिक्षा कहां तक की है और किस स्कूल से हुई है?

Advertisement
रोहित कुमार सिंह [Edited by: अनुग्रह मिश्र]पटना, 04 February 2018
तेजस्वी ने बिहार की शिक्षा व्यवस्था पर उठाए सवाल तो JDU ने पूछा खुद कितना पढ़े? तेजस्वी-संजय सिंह (फाइल फोटो)

अगले महीने से बिहार के 2 करोड़ स्कूली बच्चों की परीक्षाएं शुरू हो रही हैं और ऐसे में पूरे साल पाठ्यक्रम की किताबें जो उन्हें नहीं मिली थीं अब परीक्षा शुरू होने से एक महीने पहले उनको पहुंचाई जा रही हैं. बिहार सरकार की इसी लचर व्यवस्था को लेकर RJD नेता तेजस्वी यादव ने रविवार को नीतीश सरकार पर हमला किया और कहा कि सरकार ने पूरे शिक्षा व्यवस्था को बर्बाद करके रख दिया है.

सरकार पर निशाना साधते हुए तेजस्वी यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा कि एक महीने बाद स्कूली बच्चों की परीक्षाएं शुरू होने वाली है लेकिन नीतीश कुमार अब फरवरी के महीने में स्कूलों में किताबें पहुंचवा रहे हैं. तेजस्वी ने आरोप लगाया कि नीतीश सरकार ने पूरी शिक्षा व्यवस्था को चौपट करके रख दिया है. तेजस्वी ने नीतीश से जवाब मांगा है कि आखिर 10 महीनों से स्कूली बच्चों को किताबें क्यों नहीं पहुंचाई गईं?

इधर तेजस्वी ने बिहार सरकार के ऊपर हमला बोला तो जेडीयू ने भी उन पर पलटवार किया. तेजस्वी पर तंज कसते हुए जेडीयू प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा कि शिक्षा व्यवस्था पर तेजस्वी का ज्ञान हास्यास्पद है. पार्टी प्रवक्ता ने ट्वीट करके तेजस्वी यादव को 'हकमार जी' कहकर संबोधित करते हुए कहा कि आज के दौर का युवा होने के बावजूद जिसने शिक्षा के महत्व को नहीं समझा और केवल संपत्ति संग्रहण पर ध्यान दिया उनकी शिक्षा व्यवस्था पर टिप्पणी मजाक से कम नहीं है.

तेजस्वी पर तंज करते हुए संजय सिंह ने उनसे सवाल पूछा कि उन्हें बताना चाहिए कि उनकी खुद की शिक्षा कहां तक की है और किस स्कूल से हुई है?

गौरतलब है कि इससे पहले सरकारी स्कूलों में इस शैक्षणिक वर्ष के लिए जब अर्द्धवार्षिक परीक्षाएं ली गई थीं उस वक्त भी बच्चों ने बिना किताब पढ़े ही परीक्षा दी थी. अब जब परीक्षाएं अगले महीने शुरू होने वाली हैं तो बच्चों को उनके पाठ्यक्रम की पुस्तकें मुहैया करवाई गई हैं और ऐसे में सवाल उठता है कि क्या यह बच्चे एक ही महीने में पूरा पाठ्यक्रम पढ़ पाएंगे?

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay