एडवांस्ड सर्च

बिहार के चुनावी दंगल में युवा बिहारी बनकर उतरे चिराग पासवान

लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने ट्विटर और अन्य सोशल मीडिया पर अपना नाम चिराग पासवान के जगह युवा बिहारी चिराग पासवान कर दिया है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in पटना, 09 March 2020
बिहार के चुनावी दंगल में युवा बिहारी बनकर उतरे चिराग पासवान लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान

  • ट्विटर पर नाम बदला, लिखा- युवा बिहारी चिराग पासवान
  • राज्य में 'बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट' यात्रा की शुरुआत की

बिहार में साल के आखिर यानी अक्टूबर-नवंबर में विधानसभा चुनाव होने की संभावना है, लेकिन चुनावी माहौल फरवरी से ही बनने लगे हैं. राजनीतिक दल जहां अपने महागठबंधन में अपनी ताकत और पकड़ बनाने के लिए जोर लगाए हुए हैं, वहीं सोशल मीडिया के जरिए भी एजेंडा तय किया जा रहा है. इस कड़ी में लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने ट्विटर और अन्य सोशल मीडिया पर अपना नाम चिराग पासवान के जगह युवा बिहारी चिराग पासवान कर दिया है.

लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) नेता चिराग पासवान ने राज्य में 'बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट' यात्रा की शुरुआत की है. यात्रा को लेकर चिराग पासवान ने कहा था कि हम पूरे रोड मैप के साथ लोगों के पास जाएंगे और एक टॉल फ्री नंबर की भी घोषणा करेंगे, ताकि किसी भी समस्या को लेकर कोई भी हमें अपना सुझाव दे सके.

chirag_022720081253.jpg

इस यात्रा की शुरुआत वैशाली और मुजफ्फरपुर से हुई है. 14 अप्रैल को गांधी मैदान में इस यात्रा का समापन होगा. उन्होंने कहा कि हम एक विजन डॉक्यूमेंट ड्राफ्ट करने जा रहे हैं, जिसमें प्रदेश के कमेटी के लोग शामिल हैं. 10 से 12 लड़के-लड़कियों का ग्रुप बनाकर हम लोग कॉलेज में जाएंगे और बात करेंगे कि बिहार में कौन-कौन से चीजों की जरूरत है और वो क्या देखना चाहते हैं.

नीतीश कुमार की आलोचना करने वाले प्रशांत किशोर की चिराग पासवान ने की तारीफ

कपिल मिश्रा पर कार्रवाई होनी चाहिएः चिराग

दिल्ली हिंसा पर मंगलवार देर शाम दिल्ली में प्रतिक्रिया देते हुए चिराग पासवान ने कहा था कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के शीर्ष नेतृत्व को कपिल मिश्रा पर तुरंत कार्रवाई करनी चाहिए. उन्होंने कहा कि जिस तरह अनुराग ठाकुर और कपिल मिश्रा का बयान आया, उससे सामाजिक समरसता बिगड़ती है. ऐसे नेताओं पर भाजपा आलकमान को रोक लगानी चाहिए.

तेजस्वी बोले- लालू शासन के 15 वर्षों में दोष हो सकते हैं, अब नया बिहार बनाएंगे

तेजस्वी और कन्हैया भी जुटे

बता दें कि विधानसभा चुनाव को देखते हुए राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) नेता तेजस्वी यादव 'बेरोजगारी हटाओ यात्रा' पर जोर दे रहे हैं. वहीं, जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष और सीपीआई नेता कन्हैया कुमार लगातार बिहार में रैलियों को संबोधित कर रहे हैं. हालांकि इस दौरान कन्हैया कुमार पर कई बार हमले की घटना भी सामने आई. इधर, प्रशांत किशोर की एंट्री ने भी बिहार के चुनाव को रोचक बना दिया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay