एडवांस्ड सर्च

अभी रिटायरमेंट नहीं लेंगे धोनी, कहा- सही वक्त आने पर संन्यास की सोचूंगा

ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए भारतीय टीम की रवानगी की पूर्व संध्या पर जब धोनी से संन्यास के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘मैं ऐसा व्यक्ति हूं जो वर्तमान में जीता है और विश्व टी20 चैम्पियनशिप से पहले ध्यान ऑस्ट्रेलिया दौरे पर है. मैं सही समय आने पर इसके बारे में सोचूंगा.’

Advertisement
aajtak.in
रोहित गुप्ता मुंबई, 06 January 2016
अभी रिटायरमेंट नहीं लेंगे धोनी, कहा- सही वक्त आने पर संन्यास की सोचूंगा

भारतीय वनडे टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने फिलहाल संन्यास लेने से इनकार कर दिया है. धोनी ने यह बयान ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए रवाना होने से पहले मंगलवार को दिया.

गिरता जा रहा है धोनी का फॉर्म
34 साल के धोनी ने कहा कि वे सही समय पर क्रिकेट से संन्यास लेने के बारे में सोचेंगे. टेस्ट टीम के कप्तान विराट कोहली को तीनों फॉर्मेटों में कप्तान बनाने की मांग जोर पकड़ रही है क्योंकि टेस्ट क्रिकेट में उनके आक्रामक रवैये से काफी लोग प्रभावित हैं. इसके अलावा पिछले एक साल से बल्ले से धोनी का प्रदर्शन भी प्रभावी नहीं रहा है. इस तरह की अटकलें हैं कि वह भारत में होने वाली आईसीसी विश्व टी20 चैम्पियनशिप के बाद फैसला कर सकते हैं.

पढ़ें: किसने कहा- धोनी ने बर्बाद किया करियर

संन्यास के बारे में सही समय पर सोचूंगा
ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए भारतीय टीम की रवानगी की पूर्व संध्या पर जब धोनी से संन्यास के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘मैं ऐसा व्यक्ति हूं जो वर्तमान में जीता है और विश्व टी20 चैम्पियनशिप से पहले ध्यान ऑस्ट्रेलिया दौरे पर है. मैं सही समय आने पर इसके बारे में सोचूंगा.’

अश्विन की वापसी पर खुशी जताई
धोनी ने संन्यास के अलावा दूसरे विषयों पर बात की और आर अश्विन की फॉर्म में वापसी पर खुशी जताई. धोनी ने अश्विन की तारीफ करते हुए कहा, ‘अश्विन समझदार क्रिकेटर है. उसके प्रदर्शन में गिरावट आई थी और काफी चीजें करने की कोशिश करने के लिए उसकी आलोचना हो रही थी लेकिन मुझे खुशी है उसने वापसी की है. मैंने उसे सभी स्थानों पर इस्तेमाल किया है- पहले 10 ओवर में या फिर डेथ ओवरों में. मेरे लिए अच्छा यह है कि जब तेज गेंदबाज अच्छा प्रदर्शन नहीं कर रहे हो तो वह मेरे लिए चीजें आसान कर देता है. मैं उस पर निर्भर रहता हूं. वह शानदार है.’ धोनी ने कहा कि उपमहाद्वीप के बाहर स्पिनर के एक स्थान के लिए तीन स्पिन आलराउंडरों अश्विन, रविंद्र जडेजा और अक्षर पटेल के बीच मुकाबला होगा.

शमी की वापसी से भी खुश
भारत के सबसे सफल कप्तान ने कहा, ‘अश्विन हमारा शीर्ष स्पिनर है और जडेजा का वापस आना अच्छा है. दो स्पिन ऑलराउंडर एक स्थान के लिए चुनौती पेश करेंगे. अक्षर ने भी घरेलू क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन किया है.’ घुटने के आपरेशन के बाद लंबी रिहैबिलिटेशन प्रक्रिया से गुजरकर तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की वापसी का भी धोनी ने स्वागत किया. लेकिन उन्होंने कहा कि इस तेज गेंदबाज पर पड़ने वाले भार पर नजर रखनी होगी.

युवा क्रिकेटरों पर रहेगी नजर: धोनी
ऑस्ट्रेलिया में टीम इंडिया की संभावनाओं पर धोनी ने कहा, ‘ऑस्ट्रेलिया की टीम प्रतिस्पर्धी है. जब आप ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलते हो तो आपको अधिक अनुभव हासिल होता है. टीम में कुछ युवाओं के होने से उनके प्रदर्शन को देखना रोमांचक होगा.’ वनडे टीम में सुरेश रैना को जगह नहीं मिली है और धोनी ने कहा कि गुरकीरत सिंह मान या मनीष पांडे एकदिवसीय श्रृंखला में खेलेंगे.

'अंतिम ओवरों रन बनाना हुआ मुश्किल'
धोनी ने कहा, ‘एक युवा खिलाड़ी गुरकीरत या मनीष पांडे को पांच, छह या सातवें नंबर पर खेलने का मौका मिलेगा. हमारे पास चार काफी अच्छे शीर्ष क्रम के बल्लेबाज (धवन, रोहित, कोहली और रहाणे) हैं. किसी भी बल्लेबाज के लिए छठा और सातवां स्थान सबसे मुश्किल है.’ धोनी का मानना है कि सर्कल के बाहर एक अतिरिक्त क्षेत्ररक्षण के होने से टीमों के लिए अंतिम 10 ओवर में ताबड़तोड़ रन जुटाना मुश्किल हो गया है और अब अंतिम 10 ओवर में लक्ष्य का पीछा करते हुए 80 से अधिक रन बनाना भी आसान नहीं है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay