एडवांस्ड सर्च

सेरेना ने अंपायर को 'चोर' कहा था, अब भरना पड़ेगा भारी जुर्माना

यूएस ओपन 2018 के महिला एकल वर्ग के फाइनल को टेनिस फैंस हमेशा याद रखेंगे. इसके पीछे 2 कारण हैं. पहला एक नए चैंपियन का सामने आना और दूसरा सेरेना विलियम्स की चेयर अंपायर के साथ तीखी बहस.

Advertisement
aajtak.in [Edited By: विश्व मोहन मिश्र]न्यूयॉर्क, 10 September 2018
सेरेना ने अंपायर को 'चोर' कहा था, अब भरना पड़ेगा भारी जुर्माना सेरेना विलियम्स

टेनिस स्टार सेरेना विलियम्स पर अमेरिकी ओपन के आयोजक ने टेनिस नियमों के उल्लंघन के लिए 17,000 डॉलर (लगभग 12.5 लाख रुपये) का जुर्माना लगाया है. अमेरिकी ओपन के फाइनल में सेरेना और मैच अंपायर के बीच विवाद ने काफी सुर्खियां बटोरी हैं.

विवादों में सेरेना विलियम्स, US ओपन के फाइनल में अंपायर को कहा- चोर

सेरेना को फाइनल में जापान की 20 साल की खिलाड़ी नाओमी ओसाका ने सीधे सेटों में 6-2, 6-4 से हराया था. सेरेना पर फाइनल मैच के दूसरे सेट के दौरान अपने कोच से इशारों में मदद लेने पर मैच के अंपायर पुर्तगाल के कार्लोस रामोस ने अंक का दंड लगाया था.

इसके अलावा सेरेना पर कोर्ट में गुस्से से अपना रैकेट फेंकने और अंपायर को अपशब्द कहने के भी आरोप लगे. उन्होंने कार्लोस को चोर कहा था.

सेरेना ने लिंगभेद का आरोप लगाते हुए कहा- मैंने बेईमानी नहीं की

सेरेना पर यह जुर्माना रविवार को लगा. उन्होंने मैच के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में अंपायर पर लैंगिकवाद (सेक्सिस्ट) का आरोप लगाया था. अमेरिका की दिग्गज खिलाड़ी ने कहा कि उन्होंने पुरुष खिलाड़ियों को अंपायरों को 'बहुत कुछ' कहते सुना है, लेकिन उन्हें इस व्यवहार के लिए कभी भी दंडित नहीं किया गया.

अमेरिकी ओपन के फाइनल में खेलने के लिए सेरेना को 18.5 लाख डॉलर की राशि मिली है. उन पर लगा जुर्माना इसी राशि से निकाला जाएगा.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay